Pimpri-Chinchwad Police

    अमरावती. पुलिस महासंचालक कार्यालय के आदेश पर जिले के ग्रामीण पुलिस अधीक्षक डा. हरि बालाजी एन. ने सेवा वरीयता के अनुसार  ग्रामीण पुलिस के 150 पुलिस कर्मचारियों को पदोन्नति देने के आदेश 6 जुलाई को जारी किए है. जिससे ग्रामीण पुलिस के 150 कर्मचारियों को बड़ी राहत मिली है, लेकिन शहर पुलिस आयुक्तालय के पुलिस कर्मियों की सेवा वरीयता के तहत पदोन्नति की सूची कब घोषित होगी, इस ओर संबंधित पुलिस कर्मी बेसब्री से प्रतीक्षा कर रहे है.

    उल्लेखनी है कि इस मामले में सेवानिवृत्ति पुलिस अधिकारी-कर्मी संगठन ने मुख्यमंत्री, गृह मंत्री व पुलिस महासंचालक को निवेदन देकर तत्काल सेवा वरीयता के अनुसार पदोन्नति देने दबाव बनाया था. 

    बगैर पदोन्नति के हो रहे रिटायर्ड

    पुलिस महासंचालक के आदेश व 7 मई 2021 को शासन निर्णयानुसार सेवा वरीयता अनुसार पुलिस कर्मियों को पदोन्नति देने के आदेश  है, लेकिन पुलिस आयुक्त कार्यालय ने अब तक नाईक व पुलिस जमादारों को पदोन्नति नहीं दी है. इसीलिए कुछ कर्मचारी पदोन्नति के बगैर ही सेवानिवृत्त हो रहे है. ऐसी स्थिति निर्माण हो गई है. यह पुलिस कर्मचारियों पर एक प्रकार से अन्याय  है. शासन निर्णयानुसार रिक्त पद तत्काल भरकर सेवा वरीयता के अनुसार पदोन्नति देना आवश्यक होने के बावजूद शहर पुलिस कर्मियों को पदोन्नति की प्रतीक्षा करनी पड़ रही है. 

    सीएम-डीजी को निवेदन

    पुलिस कर्मचारियों को सेवा वरीयता के अनुसार दी गई पदोन्नति से पदावनत करना एक प्रकार से पुलिस कर्मचारियों का मनोबल कमी करने जैसा है. इस बारे में सेवानिवृत्त पुलिस अधिकारी व कर्मचारी संगठन ने मुख्यमंत्री, पुलिस महासंचालक व पुलिस महानिरीक्षण को निवेदन देकर सेवा वरीयता के अनुसार न्याय देने दिलाने दबाव बनाया गया, लेकिन पुलिस आयुक्तालय से अभी तक पदोन्नति सूची जारी नहीं किए जाने से कोरोना काल में भी अपनी जान जोखिम में डालकर ड्यूटी देने वाले पुलिस कर्मियों व उनके परिजनों में नाराजी देखी जा रही है.-राजेंद्र सिंह राजपुत, सेवानिवृत्त पुलिस संगठन 

    पदोन्नति की प्रक्रिया शुरू

    शहर पुलिस आयुक्तालय में कर्मचारियों को पद्दोन्नति देने की प्रक्रिया शुरू है.  जिसकी 4 से 5 दिनों में सूची घोषित की जाएगी.-विक्रम साली, पुलिस उपायुक्त