Brother killed for family reasons - FIR on 4 members including father

  • परसोड़ी की घटना

धामणगांव रेलवे. एक 34 वर्षीय मनोरोगी ने खलबत्ते से सिरफोडकर पिता की निर्मम हत्या कर दी. यह घटना मंगलवार को सबेरे 6 बजे घटी. मृतक रामकृष्ण लक्ष्मण काले (70) है. जबकि आरोपी धम्मदिप काले है. बताया जाता है कि धम्मदिप को मनोरोगी अस्पताल ले जाने की तैयारी की जा रही थी. तभी यह विरोध करते हुए उसने  घटना को अंजाम दिया. 

अस्पातल ले जाने की कर रहे थे तैयारी

धम्मदीप कई वर्षों से मनोरोगी है. माता पिता उसकी देखभाल करता है. लेकिन दो दिनों से धम्मदिप अपने माता पिता से गाली गलौच करते हुए उन्हे हत्या की धमकी दे रहा था. इस संदर्भ में पिता ने पुत्र के खिलाफ रविवार  को थाने में शिकायत भी करवायी थी. परेशान परिवार ने उसे मनोरोगी अस्पताल में भरती करवाने का निर्णय लिया. 

पंगल से बांध कर रखा था

धम्मपाल की हरकतों से तंग आकर उसे पलंग से बांध कर रखा गया था. मंगलवार को सबेरे पिता ने रामकृष्ण अपनी पुत्री से धम्मपाल को नागपुर ले जाए या यवतमाल इस बारे में चर्चा कर रहे थे. उनकी पत्नी नहाने गई हुई था. तभी अचानक धम्मपाल ने रस्सी तोड़कर मुक्त हुआ और खलबत्ते से अपने पिता के सिर पर हमला कर दिया. जिससे रामकृष्ण ने घटना स्थल पर ही दम तोड दिया. आरोपी की मां विमल काले ने पुलिस में धम्मपाल के खिलाफ शिकायत दर्ज करवायी है. थानेदार ब्रम्हानंद शेलके के मार्गदर्शन में पुलिस ने पंचानाम कर मामला दर्ज किया है. उसे यवतमाल के अस्पताल भेजा गया.