Rain water rages in homes, residents of engineers

अमरावती. जून माह के दूसरे सप्ताह में मानसून की शानदार दस्तक के बाद बारिश बीते एक सप्ताह से गायब हो गयी है. जिले के विभिन्न तहसीलों में भले ही शानदार बारिश हो रही है, लेकिन शहरवासी अब भी मूसलाधार बारिश की प्रतीक्षा में है. शहर में बादल आते है. थोड़ी बहुत बूंदाबादी से केवल झलक दिखाकर फिर गायब हो जाते है. बारिश के अभाव में गर्मी और उमस हलाकान कर रही है.

जिले में अब तक 162.66 मिमी बारिश
सामान्यत: जिले में 26 जून तक औसतन 126.27 मिलीमीटर बारिश का अनुमान रहता है. लेकिन इस वर्ष 162.66 के औसत से मेघ बरसे है. जिले में सर्वाधिक बारिश वरुड़ तहसील में 252.55 मिमी दर्ज की गई है. उसी प्रकार चांदूर रेलवे तहसील में 175.30 मिमी, अंजनगांव सुर्जी में 167.17 मिमी, मोर्शी में 172.36 मिमी, नांदगांव खंडेश्वर में 205.89 मिमी, चिखलदरा में 159.51 मिमी, धामणगांव रेलवे में 156.95 मिमी, चांदूर बाजार 165.87 मिमी, दर्यापुर 131.02 मिमी, तिवसा 139.13 मिमी, भातकुली 154.15 मिमी, अमरावती 147.84 मिमी, अचलपुर 127.51 मिमी तथा धारणी तहसील में 95.40 मिमी वर्षा दर्ज की गई.

गत वर्ष की तुलना में बेहतर
वर्ष 2019 में 26 जून को जिले में मात्र 52.20 मिमी औसत बारिश दर्ज की गई थी, जो इस वर्ष की तुलना में कई गुना कम थी. मौसम विभाग ने भी इस वर्ष बेहतर बारिश का अनुमान व्यक्त किया है. जिस पर खरा उतरते हुए मानसून भी समय पर पहुंचा और बारिश का औसत भी अच्छा है.