RTE

    अमरावती. कोरोना के चलते वर्ष 2021-22 के लिए आरटीई प्रवेश प्रक्रिया दो बार स्थगित की गई. लेकिन कोरोना प्रकोप कम होने के बाद आरटीई प्रवेश प्रक्रिया शुक्रवार 11 जून से फिर शुरू हो रही है. इसलिए लाटरी पाने वाले छात्रों के अभिभावकों से अपने बच्चों के आवश्यक दस्तावेजों स्कूल में जमा कर का अस्थायी प्रवेश सुनिश्चित करने की अपील जिला परिषद प्राथमिक शिक्षाधिकारी ने की है.

    कोरोना के मद्देनजर आरटीई प्रवेश के लिए अभिभावकों को अपने बच्चे साथ न ले जाएं. माता-पिता को भी बिना स्कूल पहुंचे स्कूल से संपर्क करना चाहिए और पता लगाना चाहिए कि उन्हे किस दिन प्रवेश के लिए आना हैं. इसके बाद सभी दस्तावेज स्कूल में जमा कर अस्थाई प्रवेश सुनिश्चित किया जाए. 

    1980 छात्रों की लाटरी 

    शैक्षणिक वर्ष 2021-22 के लिए आरटीई के तहत जिले के 244 स्कूलों में प्रवेश प्रक्रिया लागू की गई है. इन स्कूलों में 2,076 रिक्त सीटें है. इन सीटों पर प्रवेश के लिए जिले के 5 हजार 918 अभिभावकों ने आवेदन किया है. इसी के तहत राज्य स्तर पर 7 अप्रैल को ऑनलाइन लॉटरी निकाली गई. 15 अप्रैल को घोषित सूची के अनुसार जिले में 1980 छात्रों के प्रवेश के लिए लॉटरी लगी है.

    दस्तावेजों की पडताल के बाद ही पुष्टि

    आरटीई प्रवेश प्रक्रिया 11 जून से शुरू हो गई है. इसलिए अभिभावकों को अपने बच्चे का अस्थायी प्रवेश की पुष्टि करने के लिए सत्यापन समिति से मिले बिना स्कूल से संपर्क करना चाहिए. इसके बाद संबंधित समिति द्वारा चयनित अभिभावकों के दस्तावेजों की पडताल की जाएगी और उसके बाद ही छात्रों के प्रवेश की पुष्टि की जाएगी.- ईजेड खान, जिप प्राथमिक शिक्षाधिकारी