नुकसानग्रस्त फसलों का जल्द हो सर्वेक्षण

  • एमएलए अड़सड़ ने राजस्व प्रशासन को दिये निर्देश

अमरावती. विगत् 15 दिनों से हो रही बारिश के कारण सोयाबीन, कपास, मूंग, उड़द जैसे फसलों के साथ संतरा, निंबू आदि सब्जियों का भी बड़े पैमाने पर नुकसान हुआ है. राजस्व प्रशासन ने तुरंत सर्वेक्षण कर रिपोर्ट जिला प्रशासन को भेजने के निर्देश विधायक प्रताप अड़सड़ ने दिये. 

अवकाश के दिन भी बुलाई बैठक 

धामणगांव रेलवे, नांदगांव खंडेश्वर तहसील में बारिश के कारण खेती व फसलों का बड़े पैमाने पर नुकसान हुआ है. मूंग की फसल हाथों से निकल गयी. अत्याधिक बारिश से सोयाबीन व कपास भी सड़ने लगे है. कई किसानों ने तो खेतों में रोटा वेटर घूमाए है. इसलिए नुकसानग्रस्त फसलों का सर्वेक्षण तुरंत होना जरुरी है. इतना ही नहीं तो सर्वेक्षण की रिपोर्ट भी तुरंत ही जिला प्रशासन को भेजने के निर्देश दिये. अवकाश के बावजूद उन्होंने कार्यालय में बैठक बुलाकर प्रशासन को सूचनाएं दीं. 

पगडंडी मार्ग की समस्याएं निपटाये

किसानों को खेत तक पहुंचाने के लिए पगडंडी मार्ग होना जरुरी है. बावजूद इसके जगह-जगह से पगडंडी मार्ग की समस्या निर्माण हो रही है. इसलिए उस संदर्भ में प्रस्ताव तैयार करने के आदेश भी दिये. खरीफ की फसलें हाथों से निकल गयी, लेकिन रबी फसलों का नियोजन कर सिंचाई विभाग से पानी छोड़ने के लिए टाइम टेबल निश्चित कर जारी करने की सूचनाएं दीं. कैनल की साफ सफाई व रखरखाव के संदर्भ में भी किसानों को सूचित करने के निर्देश दिये. इस समय चांदूर रेलवे के उपविभागीय अधिकारी इब्राहिम चौधरी, प्रभारी तहसीलदार किशोर सयाम, पंचायत समिति सदस्य नरेंद्र रामावत, राजू केला आदि उपस्थित थे.