Gold-Silver-Market

  • शिकायत पर होगी कार्रवाई 

अमरावती. जिलाधिकारी शैलेश नवाल ने कहा कि मणप्पूरम बंद रहने से संबंधित नागरिकों को गिरवी रखे सोने का ब्याज देने में परेशानी झेलनी पड़ रही है. ऐसे में यदि नागरिकों की ओर से जिलाधिकारी कार्यालय में लिखित रुप से शिकायत दी जाती है तो निश्चित ही मणप्पूरम फाइनान्स कंपनी के कार्यालय को सील कर एफआइआर दाखिल करने की कार्रवाई की जाएगी. 

राष्ट्रवादी कांग्रेस ने दिया ज्ञापन 

राष्ट्रवादी कांग्रेस की महिला जिलाध्यक्षा संगीता ठाकरे के नेतृत्व में मणप्पूरम फाइनान्स कंपनी व कर्मचारियों के बीच पीस रहे सैकड़ों ग्राहकों को राहत देने की मांग की गई. ठाकरे ने बताया कि मार्च माह से जारी लॉकडाउन के दौरान कई लोग बेरोजगार हो गए. ऐसे में परिवार का पालन पोषण करने जिम्मेदारी रहने से सोना गिरवी रखने की नौबत नागरिकों पर आन पड़ी.

जिसके चलते जून से अक्टूबर तक सैकड़ों लोगों ने सोना गिरवी रखकर अपने परिवार का गुजारा चलाया, लेकिन अब जब सोने का ब्याज भरने की नौबत आयी तो मणप्पूरम फाइनान्स कंपनी का कार्यालय एक माह से बंद है. जिसके कारण सोने का ब्याज पर ब्याज बढ़ता जा रहा है. शादी-ब्याह का आयोजन होने के बावजूद लोग अपना सोना नहीं छुड़ा पा रहे है. इसलिए जिलाधिकारी ने मध्यस्तता कर नागरिकों को राहत देनी चाहिए, ऐसी मांग राष्ट्रवादी कांग्रेस ने की. 

बढ़ रहा ब्याज पर ब्याज

स्वाभिमान युवा मोर्चा की ओर से भी जिलाधिकारी के माध्यम से सीधे मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन भेजकर वरिष्ठ स्तर पर ही इसका निपटारा करने की मांग की गई. शहराध्यक्ष रवि अडोकार के नेतृत्व में जिलाधिकारी को बुधवार को ज्ञापन सौंपा गया. जिसमें कंपनी व कर्मचारियों में विवाद का खामियाजा नागरिकों को भूगतने पर विवश होना पड़ रहा है ऐसा आरोप किया गया.

दैनंदिन खर्चे के साथ बिजली बिल अदा करने के लिए भी लोगों ने सोना गिरवी रखकर अदा किया है. बावजूद इसके नागरिकों को ही मानसिक रुप से प्रताड़ित होना पड़ रहा है. बैंक बंद रहने से ब्याज पर ब्याज बढ़ता जा रहा है. जो रद्द करने की मांग रवि अडोकार ने की है. ज्ञापन सौंपते समय सद्दाम हुसैन, दानिश हुसैन, सोलेह खान, अक्षय देशमुख, प्रकाश लोहार, संतोष गुप्ता आदि उपस्थित थे.