कोरोना को हराएंगे, पूरा अनलाक कराएंगे, आज से 4 बजे तक सबकुछ खुला

    अमरावती. ब्रेक द चेन अंतर्गत जारी अनलाक के नए नियमों पर अमल किया जा रहा है. अब सभी प्रकार का व्यापार सुबह 7 बजे से दोपहर 4 बजे तक अनलाक रहेंगा. शहर के व्यापारी व नागरिकों में अनलाक की घोषणा से उत्साह है. अब तक लोगों ने कोरोना त्रिसूत्री का कड़ाई से पालन किया. जिसकी बदौलत ही अमरावती अनलाक के तीसरे फेज में है, और अब जल्द से जल्द जिले को अनलाक के पहले फेज में लाने का चैलेंज कायम है.

    कोरोना का खतरा अभी टला नहीं है, इसलिए आगे भी कोरोना त्रिसूत्री का पालन सभी को करना पड़ेगा. जिसके लिए प्रशासन ने भी कमर कसते हुए तैयारी कर रखी है. समस्त व्यापारियों ने भी कोरोना को हराएंगे, पूरा अनलाक कराएंगे, का नारा बुलंद किया है. शनिवार और रविवार के लाकडाउन का कड़ाई से पालन करने का भी आह्वान किया है. 

    आज से यह बदलाव

    जिले के सभी होटल, रेस्टोरेंट और शिव भोजन सोमवार से शुक्रवार तक सुबह सात बजे से शाम चार बजे तक 50 प्रतिशत बैठने की क्षमता के साथ संचालित होंगे. उसके बाद रात 8 बजे तक होम डिलीवरी की सुविधा दी जा सकेगी. सप्ताहांत पर सुबह 7 बजे से रात 8 बजे तक होम डिलीवरी की अनुमति है. माल ढुलाई, एम्बुलेंस, आवश्यक और आवश्यक वस्तुओं के परिवहन की कोई समय सीमा नहीं है. जिले में सार्वजनिक स्थानों, खेल के मैदानों, पार्कों, उद्यानों के साथ साइकिल चलाने और सुबह की सैर की भी सुबह 5 से 9 बजे तक अनुमति है.

    काम जरूरी, और सुरक्षा भी 

    जिला प्रशासन के अनलाक की घोषणा से राहत मिली है. अनलाक के इस पहले चरण का स्वागत है. इस छूट का बेजा इस्तेमाल ना हो इसका भी खयाल सब को रखना पड़ेगा. लोगों के सहयोग से ही कोरोना संक्रमण पर ब्रेक लग पाया है. आगे भी ऐसे ही नियमों का पालन कर कोरोना से मुक्ति पानी है. काम तो जरूरी ही है, लेकिन सुरखा बेहद जरूरी है. -विनोद कलंत्री, अध्यक्ष चेंबर आफ कामर्स

    अगले हफ्ते से ज्यादा छूट

    अभी जिला अनलाक के तीसरे चरण में है. लेकिन जिलें में मरीजों की संख्या घट रही है. अस्पतालों में आक्सीजन के पर्याप्त बेड़ खाली है. अगले सप्ताह तक इसमें और सुधार अपेक्षित है. जिससे और ज्यादा छुट मिलेंगी. हर हफ्ते इसकी समिक्षा होंगी. और अगले हफ्ते जिला अनलाक के दूसरे चरण में आने की संभावना है. – सुरेश जैन, अध्यक्ष महानगर चेंबर

    सरकार व प्रशासन का सफल नियोजन

    कोरोना काल में बढ़ते संक्रमण पर ब्रेक लगाने के लिए सरकार तथा प्रशासन द्वारा किए गए प्रयासों के कारण ही जिला अनलाक किया गया है. अभी और समय व छूट मिलना बाकी है. इसलिए आगे भी नियमों का पालन करते रहना है. जल्द ही इस महामारी से निजात मिलने की अपेक्षा है.- नितिन कदम, संचालक होटल लैंडमार्क

    जल्द पहले चरण में 

    शहर तथा जिले में नियमों का कड़ाई से पालन कर कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने में सफल हुए लोग तथा मुस्तैद प्रशासन को ही अनलाक का श्रेय जाता है. अभी जिले को जल्द से जल्द पहले चरण में लाकर कोरोना के भय से सबको आझाद कराना बाकी है. और अमरावतीवासी जल्द यह काम भी कर दिखाएंगे. अभी कुछ दिन और नियम व संयम का पालन किया जाना आवश्यक है.- रवींद्र सलूजा, अध्यक्ष रेस्ट्रारेंट एंड लाजिंग एसो.

    डेढ साल का ग्रहण छूटा

    कोरोना लाकडाउन में बीते डेढ साल से सब बंद है. इससे 70 फीसदी होटल कामगार प्रभावित हुए है.  लेकिन अब अनलाक के चलते होटलों का समय तथा छूट बढ़ाकर मिलने से कामगारों को भी राहत मिलेंगी. होटल चालक भी नियमों का पालन कर ठप पड़े होटल व्यवसाय को वापिस पटरी पर ला पाएंगे.-सारंग राउत, संचालक साउथ किचन