कोरोना काल में गणेश चतुर्थी पर इन बातों का रखें ध्यान

    10 सितंबर यानि आज के दिन पूरे देश में गणेश चतुर्थी की रौनक देखने को मिल रही है। हर साल सभी लोग गणपति बप्पा की स्थापना के लिए कई तैयारियां करते है। लोगों ने गणेश चतुर्थी पर्व को लेकर बहुत उत्साह होता है। भगवान गणेश को लोग अपने घर पर 10 दिन तक के लिए स्थापित कर पूजा-अर्चना और गणेश जी की सेवा करते है। इस पर्व को लेकर लोगों में अलग ही उत्साह होता है। 10 दिनों तक चलने वाले  महापर्व गणेशोत्सव में भगवान गणेश अपने भक्तों के बीच ही रहते हैं।

    गणपति के जन्मदिवस पर के रूप में मनाई जाने वाली ‘गणेश चतुर्थी’ पर कई बातों का विशेष ध्यान रखना बहुत ही जरूरी होता है। हर साल लोग इसे बड़े उत्साह को धूमधाम से मानते है। लेकिन इस कोरोना काल में सभी चीजें अलग हो गई है। लोगों को इस वायरस से बचने के लिए आपको कई सावधानियां बरतनी होनी। इस समय लोगों को मास्क पहनने, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने हाथों को धोने और सैनिटाइजर का इस्तेमाल करने कहा जा रहा है।

    इस कोरोना काल में आप गणेश चतुर्थी पर अपने मेहमानों को सैनिटाइजर इस्तेमाल करने के लिए न रखें। सैनिटाइजर में अत्याधिक ज्वलनशील पदार्थ होता है। जिसे लोगों का हाथ जल जाता है। मेहमानों को साबुन और पानी से हाथ धोने के लिए प्रोत्साहित करे। बच्चों के लिए सावधानी बरतें। जिससे आपकी गणेश चतुर्थी का त्यौहार आपके लिए शुभ और मंगलमय हो। इन सावधानियों के साथ गणेश चतुर्थी का पर्व मनाये।