मनपा के 187 कर्मचारी स्थायी

  • पालकमंत्री देसाई के हाथों स्थायी होने के आदेश वितरित

औरंगाबाद. राज्य सरकार ने हाल ही में मनपा में सालों से डेली वेज पर कार्यरत 187 कर्मचारियों को स्थायी किया है. प्रातिनिधिक रुप में मनपा के स्थायी समिति सभागृह में एक कार्यक्रम आयोजित कर 10 कामगारों को स्थायी होने के आदेश जिले के पालकमंत्री सुभाष देसाई के हाथों वितरित किए गए. इसके अलावा पदोन्नति दिए गए 34 अधिकारी और कर्मचारियों में से 5 को पदोन्नति आदेश दिए गए.

पेयजल की समस्या हल की जाएगी

इस अवसर पर पालकमंत्री सुभाष देसाई ने कहा कि शहर की पेयजल समस्या हल करने के लिए राज्य सरकार ने हाथ में ली नई पेयजल योजना का काम जल्द आरंभ होगा. साथ ही सड़क के काम को मंजूरी देकर काम शुरु किए गए हैं. कचरा  व्यवस्थापन में कई अड़चनों पर मात देकर इस काम को बढ़ावा दिया जा रहा है. सड़क, पानी, घनकचरा इन कामों का बेहतर परिणाम दिखाई दे रहा है. इस अवसर पर सांसद इम्तियाज जलील, विधायक अंबादास दानवे, विधायक संजय सिरसाठ, विधायक प्रदीप जैसवाल, मनपा प्रशासक आस्तिककुमार पांडेय, अतिरिक्त आयुक्त बीबी नेमाने, रविन्द्र निकम, शहर अभियंता सखाराम पानझडे, उपायुक्त सुमंत मोरे, डॉ. नीता पाडलकर, बीएस नाईकवाडे उपस्थित थे.

इन अधिकारियों को मिली पदोन्नति

मनपा प्रशासक पांडेय ने काफी सालों से प्रलंबित अधिकारियों के पदोन्नति का निर्णय लिया. जिन्हें पदोन्नति मिली उनमें मुख्य लेखाधिकारी पद पर संजय पवार, विधि सलाहकार अपर्णा थेटे को उपायुक्त पद पर, उप अभियंता सुनील काकडे को कार्यकारी अभियंता पद पर, शाखा अभियंता अब्दुल फारुक खान को उपअभियंता पद पर, दुयम आवेक्षक गंगाधर भांगे को कनिष्ठ अभियंता पद पर पदोन्नति दी गई है.