सामाजिक सौहार्द तथा सुरक्षा अभियान अंतर्गत 96 बैठकें संपन्न

औरंगाबाद. जिले की पुलिस अधीक्षक मोक्षदा पाटिल की संकल्पना से ग्रामीण क्षेत्रों में सभी धर्मों के नागरिकों में सामाजिक सौहार्द बनाए रखने के लिए 17 सितंबर से सामाजिक सौहार्द और सुरक्षा अभियान चलाया जा रहा है. इस अभियान के तहत बीते 5 दिनों में जिले भर के 23  पुलिस थाना क्षेत्रों में 96 बैठकें ली गई. इस उपक्रम के अंतर्गत वरिष्ठ पुलिस अधिकारी गांव स्तर पर जाकर सभी धर्म के नागरिकों से संवाद साध रहे है.

एसपी मोक्षदा पाटिल ने बताया कि इस उपक्रम के अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्रों के युवाओं को गांव में घटनेवाली घटनाओं के बारे में तर्कशुध्द विचार करने को प्रवृत्त कर कानूनी बातों को लेकर विस्तृत रुप में जानकारी दी जा रही है. समाज विद्रोही विविध मार्ग का इस्तेमाल कर सामाजिक सौहार्द बिगाडऩे के दृष्टि से सामाजिक और भावनिक बातों के सहारे बेगुनाह युवाओं के बारे में  द्वेष निर्माण करते है. जिससे युवाओं का मत परिवर्तन होकर वे कानून हाथ में लेने का प्रयास करते है. जिससे कई बार मामूली घटनाओं से कानून और सुव्यवस्था बिगडती है. ऐसे में उन युवाओं को कानून का उल्लघंन करने पर भविष्य में आनेवाले तकलीफों से अवगत कराने का काम इन बैठकों में अधिकारियों द्वारा जारी है.

वैजापुर वासियों से साधा ऑनलाइन संवाद

एसपी मोक्षदा पाटिल ने बताया कि उन्होंने इस उपक्रम के अंतर्गत 18 सितंबर को जूम वीडियो एप के माध्यम से जिले के वैजापुर के सभी जाति धर्म के लोगों संवाद साधा. तब उन्होंने जिले के किसी भी गांव में किसी भी महापुरुष की प्रतिमा जिलाधिकारी के इजाजत के बिना बिठाने पर कानूनी कार्रवाई के बारे में आगाह किया. मोक्षदा पाटिल ने नागरिकों को चेताया कि इसके आगे इस तरह की हरकत बर्दाश्त न करते हुए सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी.

जिम्मेदारी से करें सोशल मीडिया का इस्तेमाल

एसपी मोक्षदा पाटिल ने नागरिकों से अपील करते हुए कहा कि वे सोशल मीडिया का इस्तेमाल जिम्मेदारी से करें. दो समुदाय में दरार पैदा करनेवाले पोस्ट न बनाए, बल्कि ऐसे पोस्ट फॉरवर्ड भी ना करें. किसी भी पोस्ट को प्रतिक्रिया देते समय संयम बरते. प्रति जवाब देते समय अपशब्दों का इस्तेमाल होने पर वह भी एक अपराध होता है. अंत में एसपी मोक्षदा पाटिल ने वर्तमान में जारी कोविड महामारी पर नागरिकों से घरों के बाहर निकलने पर मास्क का इस्तेमाल, सोशल डिस्टेन्सिंग का पालन करने की अपील की.