कोरोना को रोकने में प्रशासन असफल

– सभी अधिकारियों का हो तबादला 

– कांग्रेस की मांग 

औरंगाबाद. शहर में कोरोना संक्रमण ने तेजी से पांव पसारे है. इसका मुख्य कारण प्रशासन के आला अधिकारियों में समन्वय न होना है. प्रशासन द्वारा महामारी को रोकने के लिए ठोस कदम नहीं उठाए जा रहे है. शहर में बढ़ते कोरोना संक्रमण के लिए  विभागीय आयुक्त सुनील केन्द्रेकर, जिलाधिकारी उदय चौधरी, मनपा प्रशासक आस्तिककुमार पांडेय जिम्मेदार है. इन तीनों अधिकारियों का तत्काल तबादला करने की मांग कांग्रेस के शहर कार्याध्यक्ष मोहसीन अहमद ने मुख्यमंत्री उध्दव  ठाकरे को ई- मेल द्वारा एक ज्ञापन भेजकर की.

ज्ञापन में कांग्रेस नेता मोहसीन अहमद ने बताया कि लॉकडाउन आरंभ होने के करीब एक माह तक शहर में सिर्फ 50 से अधिक मरीज थे, लेकिन बीते 3 सप्ताह  में शहर में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 1 हजार के पार कर चुका है. इसका मुख्य कारण विभागीय आयुक्त सुनील केन्द्रेकर, जिलाधिकारी उदय चौधरी तथा मनपा प्रशासक आस्तिककुमार पांडेय में समन्वय न होना है. यह तीनों वरिष्ठ अधिकारी समन्वयता में काम न करने के कारण शहर में तेजी से कोरोना ने पांव पसारे है. इन अधिकारियों की निष्क्रियता से ही शहर में कोरोना संक्रमितों की संख्या तेजी से बढ़ रही है. शहर में कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए जनता ने बेहतर सहयोग दिया.

मुंबई का दिया उदाहरण

सरकार ने जिस तरह मुंबई में कुछ वरिष्ठ अधिकारियों का तबादला किया, उसी तरह सरकार ने  इन तीनों वरिष्ठ अधिकारियों का तबादला कर नए एक्टिव अधिकारियों की नियुक्ति करने की मांग कांग्रेस के शहराध्यक्ष मोहसीन अहमद ने सीएम उध्दव ठाकरे को ई-मेल द्वारा भेजे ज्ञापन में की.