महावितरण का एप करेगा शिकायतों का निपटारा

  •  ट्रान्सफार्मर में खराबी सहित बिजली से जुड़ी सभी समस्याओं से मिलेगी निजात

औरंगाबाद. ट्रान्सफार्मर में खराबी के चलते बिजली आपूर्ति खंडित होने पर इसकी शिकायत करने के लिए अब महावितरण के कार्यालय में जाने की जरुरत नहीं होगी. घर बैठे इंटरनेट के माध्यम से महावितरण के मोबाइल एप द्वारा शिकायत करने का अवसर महावितरण की ओर से बिजली ग्राहकों को उपलब्ध कराया गया है. यह जानकारी महावितरण के उपमुख्य जनसंपर्क अधिकारी सुनील जाधव ने दी.

घर बैठे मोबाइल पर शिकायत

उन्होंने बताया कि महावितरण के बिजली ग्राहकों को हमेशा नविनता पूर्ण आधुनिक सुविधा देकर सूचारु बिजली आपूर्ति देने के लिए कटिबध्द है. अपने परिसर के घरेलू, व्यापारी, औद्योगिक और कृषि पंप की बिजली आपूर्ति ट्रान्सफार्मर खराबी के चलते खंडित होने पर अब ट्रान्सफार्मर खराबी की शिकायत करने के लिए महावितरण कार्यालय जाने की जरुरत नहीं है. इसकी शिकायत महावितरण एप पर की जा सकेगी. जिससे बिजली ग्राहकों का समय, पैसा और श्रम की बचत होगी. उपमुख्य जनसंपर्क अधिकारी जाधव ने बताया कि ट्रान्सफार्मर खराबी की शिकायत महावितरण एप पर प्राप्त होते ही महावितरण की यंत्रणा को तत्काल इसकी जानकारी मिलेगी. जिससे ट्रान्सफार्मर मरम्मत करने का नियोजन कर ग्राहकों को जल्द से जल्द ट्रान्सफार्मर उपलब्ध कराकर बिजली आपूर्ति सूचारु करने प्रयास किए जाएंगे. महावितरण के औरंगाबाद प्रादेशिक कार्यालय अंतर्गत औरंगाबाद परिमंडल के 160 ट्रान्सफार्मर, लातूर परिमंडल के 121 ट्रान्सफार्मर, नांदेड परिमंडल के 85 ट्रान्सफार्मर ऐसे कुल 377 ट्रान्सफार्मर में खराबी होने की जानकारी ग्राहकों द्वारा महावितरण के एप पर पंजीकृत की गई है. बिजली ग्राहकों ने ट्रान्सफार्मर में खराबी होने अथवा अन्य बिजली संबंधित शिकायतें महावितरण के एप पर पंजीकृत करने की अपील महावितरण के औरंगाबाद प्रादेशिक कार्यालय के सह व्यवस्थापकीय संचालक डॉ. नरेश गिते ने की है.