Aurangabad BJP Protest against OBC reservation cancellation

    औरंगाबाद. ओबीसी समाज का राजनीतिक आरक्षण रद्द होने के विरोध में भाजपा के औरंगाबाद शहर और जिला इकाई की ओर से शनिवार को आकाशवाणी चौक में चक्काजाम आंदोलन किया गया। आंदोलन के चलते काफी देर तक आकाशवाणी चौक में यातायात में बाधा निर्माण हुईं। आंदोलन का नेतृत्व सांसद डॉ. भागवत कराड, विधायक अतुल सावे, शहराध्यक्ष संजय केणेकर, पूर्व मेयर बापू घडामोडे, महिला मोर्चा की प्रदेशाध्यक्ष उमा खापरे के नेतृत्व में किया गया।

    आंदोलन के दौरान भाजपाईयों ने महाराष्ट्र की ठाकरे सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। ओबीसी के सम्मान में भाजपा मैदान में, जो ओबीसी के हित की बात करेगा, वहीं महाराष्ट्र में राज करेगा। इस नारे सहित ठाकरे सरकार के खिलाफ कई नारे लगाए गए। सांसद डॉ. भागवत कराड ने कहा कि राज्य की भ्रष्ट महाविकास आघाडी सरकार के लापरवाही के कारण ओबीसी समाज का राजनीतिक आरक्षण रद्द हुआ है।

    पुलिस और आंदोलनकारियों के बीच हुई बहस

    चक्का जाम आंदोलन के दौरान पुलिस और आंदोलनकारियों के बीच काफी बहस हुई। पुलिस ने  जबरन आंदोलन कर रहे लोगों को गिरफ्तार कर उनके खिलाफ मामले दर्ज किए गए। आंदोलन में भाऊराव देशमुख, महासचिव राजू शिंदे, समीर राजूरकर, शिवाजी दांडगे, राजेश मेहता, सागर पाले, सिध्दार्थ सालवे, प्रवीण कुलकर्णी, अजय शिंदे, संजय चौधरी, लक्ष्मीकांत थेटे, अरुण पालवे, शंकर म्हात्रे, जालिंदर शेंडगे, अशोक दामले, संजय  जोशी, मनीषा मुंडे, माधुरी अदवंत, अमृता पालोदकर, प्रतिभा जराड, अनिल मकरिए, रामेश्वर भादवे, दीपक ढाकणे, बालाजी मुंडे, ओबीसी मोर्चा के जिलाध्यक्ष गोविंद केन्द्र, राज गौरव वानखेडे, मनोज भारसकर, संजय फत्तेलष्कर,हाफिज शेख, राहुल नरोटे, संजय  बोराडे, ललित माली, सुरेन्द्र  कुलकर्णी, दत्ता जांभुलकर,आदि कार्यकर्ताओं ने हिस्सा लिया। पुलिस ने सभी को हिरासत में लेकर बाद में रिहा किया।