औरंगाबाद स्मार्ट सिटी प्रकल्प नागरिकों की आकाक्षाएं पूरी करेगा

  •  आस्तिककुमार पांडेय ने जताया विश्वास 

औरंगाबाद. औरंगाबाद स्मार्ट सिटी शहर सलाहकार समिति की बैठक शनिवार को डॉ. बाबासाहब आंबेड़कर रिसर्च सेंटर में संपन्न हुई. बैठक में कई सदस्यों ने वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से हिस्सा लिया. बैठक को मार्गदर्शन करते हुए स्मार्ट सिटी प्रकल्प के मुख्य कार्यकारी और मनपा कमिश्नर आस्तिककुमार पांडेय ने कहा कि स्मार्ट सिटी प्रकल्प को कामयाब बनाने के लिए जनसहभाग जरुरी है. जनता के सहभाग से शहर स्मार्ट सिटी बनेगा. स्मार्ट सिटी प्रकल्प नागरिकों की अपेक्षाएं भी पूरी करेंगा. 

बैठक में मार्गदर्शन करते हुए औरंगाबाद स्मार्ट सिटी के अतिरिक्त सीईओ अरुण शिंदे ने स्मार्ट सिटी अंतर्गत जारी प्रकल्पों के वर्तमान स्थिति सभी को जानकारी दी. 

सिटीजन  पोर्टल बनाया गया

सांसद इम्तियाज जलील ने स्मार्ट सिटी प्रकल्प के लिए केन्द्र सरकार द्वारा उपलब्ध कराए गए निधि का इस्तेमाल शहर के विकास के लिए जल्द से जल्द करें. ताकि, अगला निधि केन्द्र सरकार से मांगना आसान होने पर बल दिया. विधायक सावे ने कहा कि शहर की पार्किंग की समस्या व फेरीवालों की समस्या हल करने के लिए स्मार्ट सिटी प्रकल्प से उपाय योजनाएं की जाए. उसके लिए उन्होंने जयपुर के मल्टी लेवल पार्किंग के बारे में विस्तृत जानकारी दी. स्मार्ट सिटी के सीईओ आस्तिककुमार पांडेय ने कहा कि स्मार्ट सिटी प्रकल्प के अंतर्गत अधिक से अधिक विकास कार्य करने के लिए शहर सलाहकार समिति की 3 बैठकें संपन्न हुई. इसमें जनता की समस्याओं को जानने को प्राथमिकता दी गई. साथ ही जन सहभाग बढ़ाने के लिए स्मार्ट सिटी विभाग की ओर से सिटीजन  पोर्टल बनाया गया. जिससे यह साफ है कि स्मार्ट सिटी प्रकल्प औरंगाबाद वासियों की अपेक्षाएं पूरी करेगा. बैठक में पूर्व महापौर नंदकुमार घोडेले, मनपा के भाजपा के पूर्व गुट नेता प्रमोद राठोड, भाउसाहब जगताप, उद्योजक पीयुष सिन्हा, आरआर देशपांडे, हेमंत लांडगे वीडियो कांफ्रेसिंग द्वारा उपस्थित थे.