Become Emeritus Chairman of Maulana Azad Educational Trust Fareed Zakaria

    औरंगाबाद. देश सहित विदेश में मशहुर मौलाना आजाद एज्युकेशनल ट्रस्ट के इमेरिट्स चैयरमैन पद पर संस्था के संस्थापक  चैयरमैन तथा पूर्व केन्द्रीय मंत्री स्व. रफिक झकेरिया के पुत्र डॉ. फरीद जकेरिया का चयन किया गया है। वहीं उपाध्यक्ष पद पर सांसद सुप्रीया सुले को उपाध्यक्ष बनाया गया है। यह जानकारी संस्था के मौलाना आजाद कॉलेज के प्राचार्य ने जारी एक प्रेस विज्ञप्ति में दी। 

    पूर्व केन्द्रीय मंत्री डॉ. रफिक झकेरिया ने शहर में मौलाना आजाद एज्युकेशनल ट्रस्ट की स्थापना की थी। मराठवाडा के गरीब, पिछडा व अल्पसंख्याक समाज के छात्रों को बेहतर व उच्च शिक्षा देना उनका लक्ष्य था। झकेरिया के निधन के बाद उनकी पत्नी पद्मश्री फातेमा झकेरिया ने करीब 15 सालों तक ट्रस्ट के अध्यक्ष पद का पदभार संभाला था। संस्था को नए ऊंचाई पर पहुंचाने के लिए उन्होंने बेहतर भूमिका निभायी थी। इस साल अप्रैल माह में फातेमा जकेरिया का उनका निधन हुआ। तबसे संस्था के चैयरमैन पद पर उनके पुत्र फरीद झकेरिया को चैयरमैन पद बनाने को लेकर उठापठक जारी थी। करीब दो माह बाद डॉ. फरीद झकेरिया की मौलाना आजाद एज्युकेशनल ट्रस्ट के इमेरिट्स चैयरमैन पद पर नियुक्ति की गई। उच्च शिक्षित डॉ. फरीद झकेरिया अमेरिका में स्थायी है। वें विश्व के मशहुर न्यूज चैनल सीएनएन में एंकर पद पर कार्यरत है।

    उपाध्यक्ष पद पर सांसद सुप्रीया सुले की नियुक्ति

    संस्था के अध्यक्ष पद पर फरहत जमाल तथा सांसद सुप्रीया सुले की उपाध्यक्ष पद पर नियुक्ति की गई है। इस अवसर पर संस्था के विश्वस्तों ने भरोसा दिलाया कि ट्रस्ट की उध्दिष्ट तथा हेतु कायम रहेंगे। हम सब मिलकर संस्था के उन्नति तथा वहां शिक्षा हासिल करनेवाले अल्पसंख्यक, गरीब छात्रों के विकास के लिए कार्य करते रहेंगे। अध्यक्ष फरहत जमाल ने कहा कि इस प्रतिष्ठित ट्रस्ट के अध्यक्ष पद पर नियुक्ति को लेकर मैं  संस्था के विश्वस्तों का आभारी हूं। उन्होंने डॉ. फरीद झकेरिया को संस्था के इमेरिट्स चैयरमैन पद पर नियुक्त किए जाने पर उनका अभिनंदन किया। साथ ही नवनिर्वाचित इमेरिट्स के मार्गदर्शन में काम करने का अवसर मिलने पर खुशी जाहिर की।