Aurangabad city bus

    औरंगाबाद. मनपा आयुक्त आस्तिक कुमार पांडेय द्वारा स्मार्ट सिटी बस सेवा के माध्यम से शहर के यात्रियों को बेहतर यात्रा कराने के लिए किए गए प्रयासों के चलते औरंगाबाद स्मार्ट सिटी बस को अर्बन मोबिलिटी गुट में इंडिय़ा स्मार्ट सिटी पुरस्कार यानी आईएसपी 2020 से नवाजा गया है। यह घोषणा भारत सरकार के शहरी विकास मंत्रालय ने शुक्रवार शाम को की।

    आवास व शहरी मामलों के मंत्रालय द्वारा अमृत, प्रधानमंत्री आवास योजना तथा  स्मार्ट सिटीज मिशन के छठे वर्धापन दिन के उपलक्ष्य में केन्द्रीय शहरी आवास मंत्री हरदीपसिंह पुरी, सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा तथा स्मार्ट सिटीज मिशन के संचालक कृणालकुमार के उपस्थिति में शुक्रवार शाम एक कार्यक्रम आयोजित किया गया था। औरंगाबाद स्मार्ट सिटी डेवलपमेंट कार्पारेशन लि. (एएससीडीसीएल) के सीईओ आस्तिक कुमार पांडेय, अतिरिक्त सीईओ अरुण शिंदे के अलावा स्मार्ट सिटी के टीम ने इस कार्यक्रम में वीडिओ कांफ्रेंसिंग के माध्यम से हिस्सा लिया। याद रहे कि राज्य के युवा नेता तथा वर्तमान पर्यटन मंत्री आदित्य ठाकरे के हाथों जनवरी 2019 में माझी स्मार्ट बस प्रकल्प का लोकार्पण किया गया था। 100 बसों के साथ स्मार्ट बस प्रकल्प 32 मार्ग पर पहुंचती है। पूर्ण क्षमता से स्मार्ट सिटी बसेस एक ही दिन में करीब 22 हजार किलोमीटर की यात्री करती है। अब तक स्मार्ट बस शहर में 52 किलोमीटर दौड़ते हुए 87 लाख से अधिक यात्रियों को सेवा का लाभ दिया है। अधिक से अधिक क्षमता पर कार्यरत रहते समय स्मार्ट सिटीबस ने एक ही दिन में 15 हजार तक यात्रियों को सेवा दी। सभी बसेस कार्यरत होने पर यह संख्या 25 हजार तक पहुंचेगी। 

    मनपा आयुक्त पांडेय ने किया स्मार्ट सिटी टीम का अभिनंदन 

    पुरस्कार मिलने से प्रसन्न हुए मनपा आयुक्त आस्तिक कुमार पांडेय ने स्मार्ट सिटी टीम का अभिनंदन करते हुए इस सफलता के लिए सभी के प्रयासों की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि स्मार्ट बस के लिए पुरस्कार का श्रेय औरंगाबाद के नागरिकों को ही मिलता है। नागरिक स्मार्ट बस सेवा के डिजीटल सुविधा और योजनाओं का लाभ लेने की अपील पांडेय ने की। उन्होंने आगे बताया कि माझी स्मार्ट बस सेवा का लाभ लेने के लिए यात्रियों को राष्ट्रीय कॉमन मोबिलिटी कार्ड शुरु करने का प्रस्ताव है।इस एक कार्ड द्वारा नागरिक अलग अलग सार्वजनिक यातायात सेवा का इस्तेमाल कर सकते है। ध्यान रहे कि नवंबर में कोविड-19 को लेकर लगाया गया लॉकडाउन पूरी तरह  हटाने के बाद नए डिजीटल अवतार में बस सेवा आरंभ की गई। ई टिकिटिंग, यात्रियों की सुविधा के लिए स्मार्ट कार्ड, बस ट्रैकिंग मोबाइल एप ऐसे नए व आकर्षक योजना व  सुविधा सहित बस सेवा शुरु की गई। शहर में 150 स्मार्ट बस स्टॉप तथा 400 चिन्हों के खंभे बस सेवा को पूरक साबित होंगे। माझी स्मार्ट बस सेवा का लाभ लेने यात्रियों के लिए राष्ट्रीय कॉमन मोबिलिटी कार्ड शुरु करने का प्रस्ताव है। इस एक कार्ड द्वारा नागरिक अलग-अलग सार्वजनिक यातायात सेवा का इस्तेमाल कर सकते हैं।