एक सप्ताह में मिलेगी शिवाजी नगर ओवर ब्रिज के निर्माण की इजाजत

  • रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष यादव  ने दिया सांसद जलील को आश्वासन 

औरंगाबाद. जिले के सांसद इम्तियाज जलील ने गुरुवार को दिल्ली में स्थित रेलवे भवन पहुंचकर रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष विनोद कुमार यादव से मुलाकात कर रेलवे की मूलभूत सुविधा, मराठवाड़ा की रेलवे कनेक्टविटी तथा कई प्रलंबित प्रकल्पों के विकास से संबंधित विविध विषयों पर चर्चा की.

शहर के शिवाजी नगर के रेलवे ओवर ब्रिज की प्रलंबित मांग के बारे में सर्वेक्षण महाराष्ट्र राज्य सरकार तथा रेलवे विभाग ने संयुक्त रूप से कर उसकी रिपोर्ट अंतिम मंजूरी के लिए रेलवे बोर्ड के पास भेजा था. अंतिम मंजूरी काफी दिनों से प्रलंबित थी. गुरुवार को सांसद जलील ने रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष विनोद कुमार यादव से मुलाकात कर चर्चा करने पर उन्होंने आश्वासन दिया कि एक सप्ताह में शिवाजी नगर ओवर ब्रिज के लिए मंजूरी दी जाएगी. मंजूरी देते ही निविदा प्रक्रिया भी पूरी कर ली जाएगी. साथ ही परभणी से मनमाड के दरमियान डबल रेलवे लाइन का काम को भी गति देने का आश्वासन यादव ने सांसद जलील को दिया. 

रेलवे कनेक्टविटी बढ़ाने की मांग 

औरंगाबाद रेलवे स्थानक का विकास तथा सुशोभीकरण के बारे में सांसद इम्तियाज जलील ने रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष यादव से चर्चा की. चर्चा के बाद बोर्ड के अध्यक्ष ने जल्द से जल्द औरंगाबाद रेलवे स्थानक के सुशोभीकरण के काम  जल्द से जल्द शुरू करने के आदेश संबंधित अधिकारी को दिए.

मुंबई-नागपुर हाईस्पीड ट्रैन प्रकल्प से औरंगाबाद को हटाने को लेकर आ रही खबरों का रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष विनोद कुमार यादव ने खंडन कर कहा कि पर्यटन तथा उद्योगों के प्रमुख केन्द्र के रूप में रेलवे विभाग को औरंगाबाद का महत्व पता है. ऐसे में औरंगाबाद का नाम हटाया नहीं जा सकता. कोरोना महामारी के चलते नए रेलवे पटरी के लिए कोई भी प्रस्ताव न लिए जाने की जानकारी रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष यादव ने सांसद जलील को दी.