corona
File Photo

  • 2 दिनों में संक्रमितों की संख्या 300 से पार

औरंगाबाद. गत 2 दिन से शहर में कोरोना संक्रमितों की संख्या में इजाफा हुआ है. बीते कुछ सप्ताह से 2 अंकों पर पहुंची संक्रमितों की संख्या में अचानक इजाफा होकर वह 3 अंकों पर जा पहुंची है. 2 दिनों में संक्रमितों की संख्या 300 से अधिक पार करने से औरंगाबाद वासी फिर एक बार कोरोना महामारी को लेकर चिंतित हो रहे है. 

उधर, बीते 2 दिनों में संक्रमितों की संख्या बढ़ने के बाद मरीजों के बेहतर होने का प्रमाण घटा है. वर्तमान में शहर में कोरोना संक्रमितों का रिकवरी रेट 94.824 पर पंजीकृत हुआ.

दीपावली को इफेक्ट

दीपावली त्यौहार को लेकर मार्केट में खरीदी के लिए भीड़ उमड़ी थी. लोगों ने सोशल डिस्टेन्सिंग का पालन न करते हुए खरीदारी की. इस भीड़ से शहर में दोबारा कोरोना संक्रमण को आमंत्रण देने के कयास लगाए जा रहे  थे. भीड़ पर अंकुश लगाने में मनपा और पुलिस प्रशासन ने अनदेखी की. उधर, स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने दीपावली के खरीदारी के लिए सड़कों पर उमड़ी भीड़ से दोबारा कोरोना संक्रमण औरंगाबाद में फैलने की भविष्यवाणी की थी. यह भविष्यवाणी अब सच साबित होती दिखायी दे रही है.

ग्रामीण की बजाए में शहर में इजाफा

बुधवार को जिले में 138 संक्रमित मरीज पाए जाने के बाद, गुरुवार को जिले भर  में 170 संक्रमित लोग पाए गए. इन संक्रमितों में औरंगाबाद शहर की संख्या ग्रामीण क्षेत्र से काफी अधिक है. इधर संक्रमितों की संख्या बढ़ने से प्रशासन के  अधिकारियों की भी नींद हराम हो चुकी है. विशेषकर, कोरोना का रिकवरी रेट भी घटा है. मनपा प्रशासन द्वारा जारी रिपोर्ट के अनुसार, कोरोना रिकवरी रेट 94.824 पंजीकृत किया गया.गत सप्ताह यह रिकवरी रेट 95 प्रतिशत से अधिक पंजीकृत हुआ था. गत सप्ताह तक शहर का रिकवरी रेट दो अंकों पर पहुंचने से स्वास्थ्य  यंत्रणा सहित नागरिकों ने राहत की सांस ली थी.

बढ़ रही मरीजों की संख्या

 परंतु, बीते दो दिन से  संक्रमितों की संख्या में अचानक इजाफा होने से औरंगाबाद वासियों की चिंता बढी है. बता दे कि देश में कोरोना ने पांव पसारने के बाद औरंगाबाद में इससे संक्रमित होकर मरनेवालों की संख्या भी काफी अधिक थी. कुछ माह बाद इसमें गिरावट आयी. स्वास्थ्य विभाग द्वारा दिसंबर से फरवरी तक फिर कोरोना महामारी बड़े पैमाने पर पांव पसारने  के डर से इससे मरनेवालों का ग्राफ भी अधिक होने की आशंका जतायी जा रही है.