एसटी कर्मचारियों को कोविड-19 भत्ता तत्काल दिया जाए

  • मनसे की एसटी महामंडल के विभागीय नियंत्रक से मांग 

औरंगाबाद. कोरोना महामारी के दरमियान एसटी महामंडल में कार्यरत कर्मचारियों ने बेहतर सेवा दी.इस सेवा के  चलते उन्हें तत्काल सरकार निर्णय नुसार कोविड 19 भत्ता देने की मांग महाराष्ट्र नवनिर्माण राज्य परिवहन कामगार सेना के पदाधिकारियों ने एसटी महामंडल के विभागीय नियंत्रक से मुलाकात कर  एक ज्ञापन देकर की.

ज्ञापन में एसटी कर्मचारियों को जुलाई व अगस्त माह का वेतन एक  साथ दिया जाए. स्मार्ट सिटी अंतर्गत कर्तव्य निभाए  सभी कामगारों को स्मार्ट सिटी भत्ता अदा किया जाए. पात्र चालकों को ऑफ कैन्सल की रकम अदा की जाए. तबादले हुए कर्मचारियों को तत्काल छोडा जाए. महामंडल के औरंगाबाद विभाग में एसटी कामगारों के समक्ष कई समस्याएं निर्माण हो रही है. जिससे एसटी के आर्थिक उत्पन्न पर परिणाम हो रहा है.

औरंगाबाद विभाग में मध्यम व लंबे चरण के गाडियां कम प्रमाण में शुरु है. उनकी संख्या जरुरत के अनुसार बढायी जाए. मुख्य मार्ग पर राउंड कम होने से चालक, कंडक्टरों को नियोजित कामगिरी नहीं मिल पा रही हैं, वह दी जाए. स्वास्थ्य के दृष्टि से अपात्र हुए  एसटी कर्मचारियों को राष्ट्रीय परिवहन परिपत्रक के अनुसार पर्यायी कामगिरी दी जाए. कोरोना महामारी का कहर जारी है. उसके लिए कामगारों के स्वास्थ्य संरक्षण में स्वास्थ्य चिकित्सा व इलाज नियमिति जारी रखें. हर डिपो की बस आने व जाते समय उसमें दवाओं का छिडकाव करें.

चालक, कंडक्टर, यातायात नियंत्रक का प्रतिदिन मास्क की आपूर्ति करने की मांग ज्ञापन में की गई. ज्ञापन देते समय महाराष्ट्र नवनिर्माण राज्य परिवहन कामगार सेना के प्रदेश उपाध्यक्ष सतनामसिंह गुलाटी, मराठवाडा अध्यक्ष अशोक पवार, मराठवाडा सचिव संदिप जाधव, जिलाध्यक्ष उमेश दीक्षित, विभागीय अध्यक्ष एनडी दिनोरिया, विभागीय कार्याध्यक्ष एनजे वैजापुरकर, विभागीय सचिव सतीश लक्कस, कोषाध्यक्ष रविन्द्र सिरसाठ, गणेश जाधव मीरा चव्हाण, उदय कुलकर्णी आदि उपस्थित थे.