दिशा हिन है केंद्र की मोदी सरकार, अमित देशमुख का आरोप

    औरंगाबाद. केंद्र की मोदी सरकार (Modi Government) सभी स्तर पर असफल साबित हो रही है। दिशा हिन सरकार केंद्र  में कार्यरत होने से ईंधन (Fuel) और गैस (Gas) के दाम बढ़ाकर आम आदमी (Common Man) के जेब  काटने का काम कर रही है। इन दिनों देश की अर्थव्यवस्था पूरी तरह चरमरा गई है। इसका खामियाजा आम आदमी जीवनावश्यक वस्तुएं के आसमान छुते दामों के  रुप में  भूगत रहा है।  यह आरोप राज्य के चिकित्सीय शिक्षा (State Medical Education )और सांस्कृतिक मंत्री (Cultural Minister) अमित देशमुख (Amit Deshmukh) ने यहां लगाया। 

    इंधन और गैस के आसमान छुते दामों के खिलाफ कांग्रेस की ओर से देश भर मोदी सरकार के खिलाफ आंदोलन जारी है। इसी कडी में शुक्रवार को युवक कांग्रेस  के शहर और जिला ईकाई की ओर से अमित देशमुख के नेतृत्व में शहागंज में स्थित गांधी की प्रतिमा से जिलाधिकारी कार्यालय पर भव्य साईकल रैली निकालकर मोदी सरकार से तत्काल इंधन  और  गैस के आसमान छुते दामों पर रोक लगाने की मांग की। आंदोलन के बाद आयोजित प्रेस वार्ता में अमित देशमुख ने देश में बढ़ती महंगाई के लिए मोदी सरकार की गलत नीतियों को जिम्मेदार ठहराया। देशमुख ने कहा कि केंद्र सरकार हर क्षेत्र में नाकाम होने से वह तिजोरी भरने के लिए जीवनावश्यक वस्तुएं के दाम बढ़ाकर आम आदमी को परेशान की हुई है। केंद्र सरकार अर्थव्यवस्था, बेकारी, उद्योग, व्यापार, व्यवसाय, खेती और  खेती माल, जनता को  वैक्सीन देने में  पूरी तरह विफल हुई है। देशमुख के अनुसार अर्थव्यवस्था चरमरा जाने के कारण ही देश की जनता को समय पर वैक्सीन नहीं मिल पा रही है।  

    ईंधन और गैस को जीएसटी में लाए

    एक देश एक कर संकल्पना सामने रखकर केंद्र की मोदी सरकार ने जीएसटी लागू किया। परंतु, ईंधन और गैस के दामों पर जीएसटी न लगाते हुए मनमानी कर वसूला जा रहा है। मोदी सरकार के मनमानी नीतियों से आज पेट्रोल 100 पार कर चुका है। आज महंगाई से आम आदमी की कमर टूट चुकी है।  

    सत्ताधारी सभी शांत 

    देशमुख ने कहा कि जब देश में भाजपा विरोधी दल में थी, तब उन्होंने जनता को आश्वासन दिया था कि हमारी सरकार आने पर हम पेट्रोल के दाम 50 रुपए प्रति लिटर लाएंगे। आज पेट्रोल और डीजल के दाम 100 पार पहुंचने के बावजूद सत्ताधारी भाजपा के सभी नेता और मंत्री हाथ पर हाथ धरे बैठे है। उन्होंने केंद्र  सरकार से मांग की है कि वे तत्काल ईंधन और गैस के आसमान छुते दामों को कम करें,  वरना कांग्रेस की ओर से और सख्त आंदोलन छेड़ा जाएगा। राज्य के चिकित्सीय शिक्षा मंत्री ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, युवा नेता राहुल गांधी के नेतृत्व में पूरे देश में कांग्रेसी आम आदमी को राहत पहुंचाने का कार्य कर रहे है।  ईंधन और गैस के दाम कम करना यह केंद्र सरकार के हाथ में है। कांग्रेस के आंदोलन की तत्काल दखल लेकर केंद्र सरकार ने ईंधन और गैस के दाम कम करने की मांग अमित देशमुख ने की। 

    तिसरी लहर का मुकाबला करने राज्य सरकार मुस्तैद 

    एक सवाल के जवाब में चिकित्सीय शिक्षा मंत्री ने कहा कि देश में तिसरी लहर आने की आशंका जतायी जा रही है। इन दिनों देश में जितने कोरोना संक्रमित मरीज है, उनमें 50 प्रतिशत मरीज महाराष्ट्र में है। कोरोना की तिसरी लहर आने की आशंका के चलते राज्य सरकार पूरी तरह  मुस्तैद हो चुकी है।  आम नागरिकों को तत्काल स्वास्थ्य सेवाएं मिले, इसको लेकर चिकित्सा सेवाओं को अलर्ट कर दिया गया है। उन्होंने विश्वास जताया कि जिस तरह राज्य सरकार ने कोरोना की पहली और दूसरी लहर पर जल्द काबू पाया, उसी तरह हम तिसरी लहर पर भी काबू पाने में कामयाब होंगे।  

    चिकित्सा क्षेत्र के रिक्त पदों को भरने की प्रक्रिया जारी 

    राज्य के वैद्यकीय क्षेत्र में हजारों रिक्त पद है। इसको लेकर मुंबई हाईकोर्ट  के औरंगाबाद खंडपीठ ने राज्य सरकार को तत्काल चिकित्सा क्षेत्र के रिक्त पद भरने के दिए आदेश पर पूछे गए सवाल पर देशमुख ने कहा कि राज्य सरकार ने भरती प्रक्रिया शुरु कर दी है। राज्य के जितने पद रिक्त है, उसका खाका तैयार कर भरती प्रक्रिया आरंभ की गई है। जल्द ही सभी पदों को भरा जाएगा। पत्रकार परिषद में कांग्रेसके जिलाध्यक्ष डॉ. कल्याण काले, शहराध्यक्ष हिशाम उस्मानी, पूर्व मंत्री अनिल पटेल, सेवा दल के प्रदेशाध्यक्ष विलास औताडे आदि उपस्थित थे।