राज्य के तिजोरी से बचे 7 हजार करोड़ तत्काल गरीबों में वितरित करें

    औरंगाबाद. देश में टीकाकरण अभियान (Vaccination Campaign) के सारे सूत्र केन्द्र सरकार (Central Government) ने अपने हाथ में लेने के कारण राज्य में टीकाकरण को लेकर जारी धांधलियों पर ब्रेक लगेगा। आम जनता के स्वास्थ्य की संपूर्ण जिम्मेदारी केन्द्र सरकार ने संभालने से देश की जनता को बड़े पैमाने पर राहत मिलेगी। यह बात केन्द्रीय मंत्री रावसाहब पाटिल दानवे (Union Minister Raosaheb Patil Danve) ने स्पष्ट कर इस निर्णय को लेकर पीएम नरेन्द्र मोदी का आभार माना है। अब महाराष्ट्र के गरीब जनता को आर्थिक संकट में राहत देने के लिए राज्य सरकार विशेष 7 हजार करोड़ का पैकेज घोषित करें, यह मांग दानवे ने ठाकरे सरकार से एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर की।

    दानवे ने कहा कि देश के 18 साल के ऊपर के लोगों को मुफ्त टीका देने की जिम्मेदारी केन्द्र सरकार ने अपने हाथ में ली है। एक साथ 7 हजार करोड़ का चेक देकर टीका खरीदने की तैयारी दिखानेवाले ठाकरे सरकार ने केन्द्र सरकार के निर्णय के बाद टीका खरीदने के लिए खर्च की जानेवाली 7 हजार करोड़ के निधि से गरीब जनता, किसान, बारा बलुतेदार, रिक्शा, टैक्सी चालक, मजदूर, हेयर कटिंग चालक तथा लॉकडाउन काल में रोजगार गवाएं सभी को तत्काल पैकेज घोषित करने की मांग केन्द्रीय मंत्री तथा भाजपा के वरिष्ठ नेता रावसाहाब पाटिल दानवे ने की। 

    नागरिकों को राहत देने की मांग 

    दानवे ने कहा कि केन्द्र सरकार ने राज्य को टीका खरीदने की अनुमति देने के बाद महाराष्ट्र के लिए एक साथ पूरी रकम का चेक देकर 12 करोड़ टीका खरीदने की तैयारी करने की ठाकरे सरकार ने  घोषणा की थी। अब टीका आपूर्ति की संपूर्ण जिम्मेदारी केन्द्र सरकार ने उठाने के बाद टीका खरीदने के लिए ठाकरे सरकार द्वारा खर्च की जानेवाली 7 हजार करोड़ की रकम गरीब जनता में तत्काल वितरित कर कोरोना महामारी को लेकर जारी लॉकडाउन से परेशान राज्य के नागरिकों को राहत देने की मांग रावसाहब पाटिल दानवे ने की।