औरंगाबाद में 8 स्थानों पर लगाए जाएंगे गणेश मूर्ति स्टॉल्स

औरंगाबाद. गणेशोत्सव में कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए मनपा ने नियोजन करना शुरू किया है. अब तक शहर में सिर्फ 3 ही स्थानों पर गणेश मूर्तियों की बिक्री होती थी, परंतु गणेश मूर्ति की खरीदी के लिए होनेवाली भीड़ को टालने के लिए मनपा प्रशासन ने शहर के 8 स्थानों पर गणेश मूर्तियां बेचने के लिए परमिशन दी है. प्रशासन ने यह 8 स्थान निश्चित किए.

हर साल गणेशोत्सव को लेकर शहर के औरंगपुरा के जिला परिषद मैदान के अलावा सिडको परिसर में स्थित 2 खुले मैदान पर गणेश मूर्तियों को बेचने की परमिशन प्रशासन द्वारा दी जाती थी. मूर्तियों की बिक्री के साथ-साथ इन मैदानों में डेकोरेशन, पूजा की सामग्री वाले दुकाने भी बड़ी संख्या में लगती थी.

भीड़ को टालने के लिए जोन वाइज एक मार्केट

शहर में कोरोना कहर जारी है. प्रशासन द्वारा कड़े कदम उठाए जाने के बावजूद  हर दिन 100 से अधिक कोरोना संक्रमित मरीज शहर में पाए जा रहे है. ऐसे में गणेश मूर्तियों की बिक्री के स्थान निश्चित करने के लिए मनपा आयुक्त आस्तिक कुमार पांडेय ने आला अधिकारियों के साथ बैठक की. बैठक में जोन वाईज गणेश मूर्तियों की बिक्री के स्थान निश्चित किए गए.

इन स्थानों पर होगी गणेश मूर्तियों की बिक्री

प्रशासन के सूत्रों ने बताया कि मनपा कमिश्नर पांडेय ने अधिकारियों के साथ बैठक कर गणेश मूर्तियों के बेचने के स्थान निश्चित किए. उनमें जिला परिषद मैदान सहित टीवी सेंटर के निकट स्थित क्रीडा संकूल, सिडको एन-5 में स्थित राजीव गांधी मैदान, उल्कानगरी का खिवंसरा पार्क मैदान, कामगार चौक से महालक्ष्मी चौक,सिडको एन-2 के स्टेडिय़म के बाजू की जमीन, श्री हरी पवेलियन, प्रोजोन मॉल के सामने स्थित फूटपाथ यह स्थान शामिल है. छावनी परिसर में स्थित कर्णपूरा मैदान में भी गणेश मूर्तियों के बिक्री का मार्केट भराने का नियोजन प्रशासन द्वारा जारी है.

एंटीजन टेस्ट कराना जरुरी

प्रशासन ने गणेश मूर्तियों की बिक्री करनेवाले हर व्यापारी के लिए एंटीजन टेस्ट अनिवार्य की है. इस टेस्ट में  मूर्तियां बेचनेवाले जो व्यापारी निगेटिव आएंगे, उन्हीं ही गणेश मूर्तियां बेचने की दुकाने लगाने की इजाजत दी जाएगी. जो पॉजिटिव पाए जाएंगे, उन्हें दुकान लगाने की इजाजत नहीं दी जाएगी.