‘साइकिल फॉर चैलेंज’ को अच्छा प्रतिसाद

औरंगाबाद. औरंगाबाद स्मार्ट सिटी डेवलपमेंट कार्पोरेशन लि. यानी एएससीडीसीएल ने शुरू किया हुआ साइकिल फॉर चैलेंज उपक्रम  शहरवासियों को साइकिल चलाने को प्रोत्साहित करने में कामयाब हुआ है. इसके सकारात्मक परिणाम के रूप में शहर में साइकिल खरीदी में 300 प्रतिशत की वृध्दि हुई है.

प्रशासक आस्तिक कुमार पांडेय की पहल

औरंगाबाद स्मार्ट सिटी डेवलपमेंट कार्पोरेशन के माध्यम से महानगर पालिका शहर ने ‘लव औरंगाबाद’ अभियान शुरू किया. ‘लव औरंगाबाद’ अभियान के एक हिस्से के रूप में साइकिल फॉर चेलेंज यह उपक्रम चलाया गया. शहर में युवा और साइकिल प्रेमियों के लिए स्वतंत्र ट्रैक तैयार कराने के लिए एएससीडीसीएल के मुख्य कार्यकारी अधिकारी पुष्कल शिवम और मनपा प्रशासक आस्तिक कुमार पांडेय ने पहल की.

साइकिल टू वर्क डे भी शुरु

उन्होंने साइकिल चालक संगठन, स्वयंसेवी संस्था, डॉक्टर, मनपा, एएससीडीसीएल के अधिकारी और औरंगाबाद शहर पुलिस को शामिल कर एक समिति का गठन किया. समिति के साथ बैठक और चर्चा होने के बाद शहर में साइकिल ट्रैक तैयार करने के लिए कडे़ कदम उठाए. अधिक से अधिक लोगों को साइकलिंग की ओर आकर्षित करने के साथ ही उन्हें प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से मनपा कमिश्नर आस्तिक कुमार पांडेय ने औरंगाबाद में साइकिल टू वर्क डे भी शुरु किया. इससे  पूर्व उन्होंने अकोला के जिलाधिकारी रहते इसी तरह की संकल्पना की थी. अकोला की तरह ही औरंगाबाद मनपा के अधिकारियों और कर्मचारियों को हर माह के प्रथम दिन साइकिल पर कार्यालय आने की अपील की थी. उसके बाद शहर के व्यापारियों, मनपा और एएससीडीएल के अधिकारियों को प्रभावी प्रतिसाद मिला. मनपा प्रशासक आस्तिककुमार पांडेय की संकल्पना से शुरू की गई साइकिल फॉर चेंज मुहिम से शहर में साइकिल बिक्री में बढ़ोत्री हुई है.

स्वास्थ्य के अलावा सामाजिक समानता भी

पैठण गेट के लुधियाना साइकिल के मालिक निखिल मिसाल ने कहा कि गत कुछ माह से साइकल की मांग 300 प्रतिशत बढ़ी है.  साइकिलिंग सिर्फ अपने शरीर और माहौल के लिए स्वास्थ्यदायी है, बल्कि शहर में सामाजिक समानता और परिपूर्ण यातायात की गारंटी भी देता है. मुंबई हाईकोर्ट के वकील ओम माहेश्वरी ने कहा मनपा कमिश्नर पांडेय के साइकिल प्रेम से प्रेरित होकर इस माह के आरंभ में उन्होंने एक साइकिल खरीदी है.

आचार संहित समाप्त होते ही बनाए जाएंगे साइकिल ट्रैक 

मनपा कमिश्नर पांडेय ने बताया कि वायू प्रदूषण आज शहर के लिए सबसे बड़ा चिंता का विषय है. स्मार्ट सिटी  प्रकल्प का एक घटक यानी पर्यावरण संवर्धन और साइकिल फॉर चेलेंज के माध्यम से उसका प्रचार करने का प्रयास मनपा कमिश्नर आस्तिक कुमार पांडेय ने किया है. नागरिकों ने दुपहिया वाहनों का कम इस्तेमाल करने की अपील मनपा प्रशासक पांडेय ने की है. इन दिनों स्नातक चुनाव को लेकर आचार संहिता जारी है. आचार संहिता के चलते बोलार्ड खरीदी की प्रक्रिया में देरी हुई. आचार संहिता समाप्त होते ही साइकिल ट्रैक तैयार करने की प्रक्रिया पूरी की जाएगी. यह जानकारी एएससीडीसीएल के डिप्टी सीईओ पुष्काल शिवम ने दी.