कर्णपुरा देवी नवरात्र उत्सव शुरू, शिवसेना जिला प्रमुख दानवे ने की आरती

औरंगाबाद. औरंगाबाद शहर के ग्राम दैवत कर्णपुरा में शनिवार तडके नवरात्र उत्सव आरंभ हुआ. प्रथम दिन पर तुलजा भवानी माता की यात्रा के संस्थापक अध्यक्ष और शिवसेना जिला प्रमुख अंबादास दानवे के हाथों विधिवत पूजा, आरती और घट स्थापना कर परंपरागत नवरात्र उत्सव उत्साह में आरंभ हुआ. 

सरकार के निर्देश का पालन

प्रशासन द्वारा कोरोना महामारी को लेकर जारी किए गए दिशा-निर्देशा का पालन करते हुए इस साल कर्णपुरा में नवरात्र उत्सव सादगी से मनाने का निर्णय लिया गया. जिसके चलते शनिवार के तड़के चुनिंदा श्रध्दालुओं के उपस्थिति में नवरात्र उत्सव आरंभ हुआ. नवरात्र उत्सव में ऐतिहासिक महत्व वाले कर्णपुरा में हर साल बड़े पैमाने पर यात्रा होती है. 9 दिन के काल में शहर सहित जिले के लाखों श्रध्दालु दर्शन के लिए आते है. यात्रा के लिए महाराष्ट्र के अलावा उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, गुजरात, कर्नाटक राज्य से बिक्रेता आते है. यात्रा में डेढ़ हजार से अधिक लोगों को रोजगार उपलब्ध होता. बल्कि, यात्रा में 10 करोड़ से अधिक का लेन-देन होता है. परंतु, इस साल कोरोना महामारी के चलते यात्रा रद्द करते हुए कर्णपुरा में नवरात्र उत्सव सादगी से मनाने का निर्णय लिया गया. इस साल श्रध्दालुओं के लिए दर्शन बंद है. इसलिए श्रध्दालु नाराज है. परंतु भावना से अधिक कोरोना महामारी पर मात करना, अपनी जान और स्वास्थ्य महत्वपूर्ण होने की प्रतिक्रिया शिवसेना जिला प्रमुख अंबादास दानवे ने दी. उत्सव के प्रथम दिन की गई आरती पर पूर्व महापौर नंदकुमार घोडेले, संतोष दानवे, संतोष मरमट, राजू राज राजपूत, अभिजीत पगारे, सोमनाथ बोंबले पराग कुंडलवाल, नंदु लबडे, अंकुश दानवे, जगन्नाथ दानवे, सुरेश दानवे, आकाश दानवे, पोपटराव दानवे प्रमुख रुप से उपस्थित थे.