Lata Mule work is commendable, Dr. Nita Padalkar rendering - Innerville Club joining ceremony conclu

    औरंगाबाद. कोरोना महामारी का कहर अभी भी जारी है। हर व्यक्ति को सरकार द्वारा जारी गाईड लाईन का पालन करना चाहिए। कोरोना काल में इनरवील क्लब (Innerville Club) द्वारा कार्य उपक्रमों पर अमलीजामा (Implemented) पहनाया गया। इस क्लब की अध्यक्ष पद पर लता मुले (Lata Mule) का चयन क्लब के उन्नति को और अधिक बढ़ावा देगा। बीते कई सालों  से लता  मुले सामाजिक कार्यों में अग्रेसर है। उनके कार्य की जितनी प्रशंसा की जाए, वह कम है। यह प्रतिपादन महानगरपालिका (Municipal Corporation) की मुख्य  चिकित्सा अधिकारी (Chief Medical Officer) डॉ. नीता पाडलकर (Dr. Neeta Padalkar) ने  यहां किया।

    कोविड-19 को लेकर सरकार द्वारा जारी गाईड लाईन का पालन करते हुए इनरविल क्लब औरंगाबाद का पदग्रहण समारोह डॉ. नीता पाडलकर के प्रमुख उपस्थिति में सहयाद्री बंगले पर संपन्न हुआ। उसके बाद अपने विचार में डॉ.पाडलकर ने यह बात कही। क्लब की निवर्तमान अध्यक्ष शीला कुलकर्णी से उद्योजिका लता मुले ने अध्यक्ष पद का पदभार संभाला। अपने विचार में डॉ. पाडलकर ने शहर के स्लम और सोसाईटी परिसरों में इनरवील क्लब ने आगे आकर सभी को टीका देने के लिए  पहल करने की विनंती की। उसके लिए महानगरपालिका प्रशासन पूरी तरह सहयोग करने का आश्वासन भी दिया।

    आत्मसुरक्षा के लिए लड़कियों को दिया जाएगा प्रशिक्षण 

    इनरवील क्लब के  अध्यक्ष पद का पदभार संभालने के बाद अपने विचार में  लता मुले ने कहा कि क्लब की ओर से लडकियों को आत्म सुरक्षा के लिए प्रशिक्षण दिया जाएगा। साथ ही देहातों के जरुरत मंदों को सोलर लैंप का जल्द ही वितरण किया जाएगा। लता मुले ने बताया कि क्लब की ओर से सालों से सामाजिक कार्य जारी है। उनके अध्यक्ष पद के  कार्यकाल में भी वे शहर में जरुरत मंदों और गरीबों के लिए कई सामाजिक उपक्रम हाथ में लेकर उनकी मदद करेंगे।

    इनरविल क्लब कार्यकारिणी 

    अध्यक्ष-लता मुले, उपाध्यक्ष-छाया भोयर, सचिव-वर्षा पटेल, ट्रेजरर-शिवाजी लडडा, आयएसओ-अंजली सावे, संपादक- अंजली दशरथी, सीसीसी पूर्व जिलाध्यक्ष उषा धामणे, क्लब करंड पाँड – रेखा केदारे, समिति की सदस्य के रुप में शामल भोगले, वृषाली उपाध्ये, प्रतिभा धामणे, आशा भांड तथा माधुरी अहिरराव को शामिल किया गया। कार्यक्रम का सूत्र  संचालन शामल भोगले और डॉ. इना नाथ ने किया। इस अवसर पर स्वप्रा पाडलकर, सुषमा मुले, उषा मुले, रोहिनी मुले, स्नेहल मुले उपस्थित थी।