लॉकडाउन लगाने की खबरें गलत

  • सीपी डॉ. निखित गुप्ता का स्पष्टीकरण 

औरंगाबाद. शहर में कोरोना का प्रकोप तेजी से फैल रहा है. ऐसे में जिला प्रशासन की ओर से दोबारा लॉकडाउन लगाने की अफवाहें इन दिनों शहर में तेजी से फैल रही हैं. इस पर स्पष्टीकरण देते हुए शहर के सीपी डॉ. निखिल गुप्ता ने साफ किया कि प्रशासन की ओर से लॉकडाउन लगाने को लेकर कोई पहल नहीं है. जो अफवाहें फैलाई जा रही हैं, वह पूरी तरह से गलत है.

हर सोमवार को कोरोना महामारी को लेकर प्रशासन द्वारा किए जा रहे कार्यों का जायजा औरंगाबाद जिला और शहर के आला अधिकारी और जन प्रतिनिधियों की बैठक में लिया जाता है. सोमवार को जन प्रतिनिधियों और आला अधिकारियों के साथ जिलाधिकारी सुनील चव्हाण ने बैठक ली. बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए शहर के सीपी डॉ. निखिल गुप्ता ने साफ किया कि बैठक में  प्रशासन की ओर से लॉकडाउन लगाने के बारे में कोई चर्चा ही नहीं हुई. 

हमेशा मास्क इस्तेमाल करते रहें

पुलिस कमिश्नर डॉ. गुप्ता ने शहर वासियों से अपील करते हुए कहा कि कोरोना प्रकोप से बचने के लिए हर नागरिक घर से बाहर निकलने पर मास्क का इस्तेमाल करे. मास्क के बिना घर से बाहर न निकले. लोग इस महामारी को फैलने से रोकने के लिए सावधानी बरते. घरों से बाहर निकलने पर मास्क पहनने के साथ ही सोशल डिस्टेन्सिंग का पालन करें.

लॉकडाउन नहीं लगेगा : विधायक दानवे 

शिवसेना जिला प्रमुख और विधायक अंबादास दानवे ने भी जिला प्रशासन के साथ हुई बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत में साफ किया कि अब इसके बाद शहर में लॉकडाउन कभी भी नहीं लगेगा. उन्होंने बताया कि बैठक में कोरोना संक्रमित मरीजों की बढ़ती संख्या पर बेड बढ़ाना, वेटिंलेटर बढ़ाने के साथ निजी संस्थाओं के सहकार्य से ऑक्सीजन की आपूर्ति करने की सूचना जन प्रतिनिधियों द्वारा की गई.उन्होंने बताया कि सेना विधायक प्रदीप जैसवाल ने रात 9 बजे से शहर में सख्त लॉकडाउन लगाने की सूचना की. साथ ही टैक्सी और  रिक्शा में यात्रियों की संख्या पर विशेष लक्ष्य केन्द्रीत करने पर बल दिया.