pandey aur

    औरंगाबाद. औरंगाबाद शहर (Aurangabad City) में कोरोना मरीजों (Corona Patients) की संख्या में फिर से इजाफा होने से चिंतित मनपा प्रशासक और कमिश्नर आस्तिक कुमार पांडेय ने बुधवार को औरंगाबाद वासियों से फेसबुक लाइव (Facebook live) के माध्यम से संवाद साधा। पांडेय ने साफ किया कि शहर में कोरोना संक्रमण पर ब्रेक लगाने के लिए मनपा प्रशासन  ने कोरोना टेस्टिंग के साथ ही कोरोना टीकाकरण की जम्बों मुहिम चलाने का निर्णय लिया है।

    बीते वर्ष दिसंबर माह में कोरोना महामारी पर प्रशासन लगभग ब्रेक लगाने में कामयाब हुआ था, परंतु उसके बाद नागरिकों ने कोरोना को लेकर जारी  नियमों का पालन न करने से फिर एक बार शहर में  महामारी ने पांव पसारना शुरु कर दिया है। ऐसे में इस महामारी पर ब्रेक लगाने के लिए  टीकाकरण मुहिम को और अधिक गति देने के लिए शहर में ‘मेरा वार्ड 100 प्रतिशत कोरोना टीकाकरण युक्त वार्ड’ यह अभियान चलाया जाएगा।

    अधिक टेस्टिंग करने का नियोजन मनपा प्रशासन ने किया 

    पांडेय ने बताया कि शहर में महामारी को रोकने के लिए सरकार के निर्देश पर अधिक से अधिक टेस्टिंग करने का नियोजन मनपा प्रशासन ने किया है। उसके अनुसार अब नियोजित टीमों सहित और 6 मोबाइल टीमें, 6 कंटेनमेंट जोन टीम और सिटी एंट्री पॉईंट पर 6 दलों को तैनात किया जाएगा। ऐसे में प्रशासन  द्वारा कुल 54 टीमों के माध्यम से अधिक से अधिक नागरिकों की कोरोना टेस्टिंग की जाएगी। पांडेय ने बताया कि शहर में कोरोना महामारी ने पांव पसारने के बाद प्रशासन की यंत्रणा दिन-रात  काम में जूट गई है। 

    मनपा की  टीकाकरण अस्पताल अपने द्वार पर मुहिम 

    प्रशासक पांडेय ने बताया कि शहर में कोरोना मरीजों की संख्या में तेजी से इजाफा होने के कारण प्रशासन ने मरीजों के यातायात के लिए 20 बसों को तैनात किया है। इसके अलावा शहर में 6 एम्बुलेंस सेवा दे रही है। जल्द ही और 10 नए एम्बुलेंस शुरु किए जाएंगे। उन्होंने बताया कि टीकाकरण के लिए प्रशासन ने अतिरिक्त 10 टीम कार्यरत कर टीकाकरण अस्पताल अपने द्वारा पर यह  मुहिम चलाने का निर्णय लिया है।  टीम के सदस्य कंटेनमेंट जोन पहुंचकर  टीकाकरण मुहिम चलाएंगे। हर टीम में दो डॉक्टर, दो नर्स, डाटा एंट्री ऑपरेटर सहित  जरुरी स्टाफ रहेगा। शहर से कामगारों को लेकर जानेवाले बसेस पर भी इस टीम की नजर रहेगी। शहर के  पूर्व नगरसेवकों सहित विविध संस्थाओं के मदद से हर वार्ड में कंटेनमेंट जोन में पात्र लाभार्थियों की सूची तैयार कर उन्हें अपने-अपने परिसर के कोविड केयर सेंटर व डीसीएच सेंटर पर टीका लेने के लिए अपील की जाएगी। 

    33 केन्द्रों पर जारी है  टीकाकरण मुहिम 

    पांडेय ने बताया कि औरंगाबाद शहर के लिए सरकार द्वारा तीन लाख टीके मुफ्त में उपलब्ध कराए जाएंगे। उसमें 50 हजार लोगों को टीके आज तक लगाए गए है। आगामी तीन माह में तीन लाख लोगों को टीका लगाने का टार्गेट शहर को सरकार ने दिया है। यह टार्गेट हमने पूरा किया तो हमारा शहर कोरोना से मुक्त होगा,  यह विश्वास भी पांडेय ने जताया। सरकार के निर्देश पर 60 साल के ऊपर के वरिष्ठ नागरिकों तथा 45 साल के ऊपर के विविध बीमारियों वाले नागरिकों को कोरोना टीका लगाया जा रहा है। इसके लिए 15 निजी अस्पताल के अलावा मनपा व घाटी प्रशासन मिलकर 33 टीकाकरण केन्द्र से कोरोना के टीके लगाए जा रहे है। 

    बढ़ाए जा रहे हैं  कोविड केयर सेंटर

    प्रशासक पांडेय के अनुसार, गत वर्ष मार्च माह में कोरोना महामारी ने पूरे देश में पांव पसारने के बाद उस बीमारी का वायरस उतना तेज नहीं था, परंतु इस वर्ष फैल रहा वायरस काफी चंचल है। जिसके चलते वायरस काफी तेज गति से फैल रहा है। ऐसे में तेजी से बढ़ रहे मरीजों को स्वास्थ्य सेवाएं देने के लिए मनपा की ओर से अधिक से अधिक बेड की सुविधाओं की आपूर्ति करने का प्रयास जारी है। कोविड केयर सेंटर बढ़ाए जा रहे है। उसके लिए मंगल कार्यालय भी कब्जे में लिए जा रहे है। परंतु, यह सभी उपाययोजनाओं की एक लिमिट है। 

    सभी से सहकार्य करने की अपील

    ऐसे में मनपा  प्रशासन शहर में मेरा वार्ड 100 प्रतिशत टीकारण युक्त वार्ड अभियान चलाएगा। उसके लिए शहर के सांसद, विधायक, नगरसेवक के अलावा  सभी जन प्रतिनिधियों ने सहकार्य करने की अपील मनपा प्रशासक पांडेय ने फेसबुक लाईव के माध्यम से औरंगाबाद वासियों से की। बता दें कि मंगलवार को शहर  में 1 हजार 11 मरीज पाए जाने से प्रशासन के हाथ पांव फुल रहे है। इसलिए प्रशासक पांडेय ने मनपा द्वारा महामारी को रोकने के लिए किए जा रहे उपाय योजनाओं की जानकारी फेसबुक लाइव के माध्यम से दी।