जरुरतमंदों के लिए  ‘माणुसकिची भिंत’

  • दीपावली पर औरंगाबाद मनपा का उपक्रम

औरंगाबाद. दीपावली का पावन पर्व आने पर विशेष रुप से गरीबों की दीपावली खुशियों से मने, इस बात को सामने रखकर कई लोग जरुरत मंदों को मदद करते है. कईयों को यह मदद जरुरत मंदों को समय पर पहुंचानी होती है. इस साल जरुरत मंदों को दीपावली भेट देने के  लिए औरंगाबाद मनपा ने कदम बढ़ाए है. इसके तहत गुरुवार को ‘माणुसकिची भिंत’ यानी ‘इन्सानियत की दीवार’ उपक्रम के अंतर्गत जरुरतमंदों को भेंट दी जाएगी. अपने घरों में बेकार पड़ी वस्तुओं को मनपा के जोन कार्यालय में जमा कर  सहकार्य करने की अपील मनपा प्रशासक आस्तिककुमार पांडेय ने की है.

किसी के पास बहुत कपडे, जूते, किताबे, ब्लैकेंट के अलावा प्रतिदिन इस्तेमाल होनेवाले कई सामान पड़े रहते हैं. वहीं, दूसरी और कुछ लोगों के पास इसमें से एक भी वस्तु नहीं है. समाज में यह दूरियां दिन-ब-दिन बढ़ती ही जा रही है. जरूरतमंद लोगों की दीपावली बेहतर मने, इसके लिए मनपा प्रशासक पांडेय की संकल्पना से प्रशासन द्वारा गुरुवार को ‘माणुसकिची भिंत’ नामक उपक्रम चलाया जाएगा. 

जूते, किताबे, ब्लैकेंट जोन कार्यालय में जमा करने की अपील

इस उपक्रम के अंतर्गत शहर के नागरिकों ने उनके घर में पडे़ कपडे, जूते, किताबे, ब्लैकेंट जोन कार्यालय में जमा करने की अपील प्रशासक पांडेय ने की है. सारी वस्तुएं जमा होने के बाद दीपावली से पूर्व उन वस्तुओं को जरुरतमंदों तक पहुंचाया जाएगा. इस उपक्रम को औरंगाबाद वासियों ने जोरदार प्रतिसाद देने की अपील मनपा कमिश्नर तथा प्रशासक पांडेय ने की है.

अपना परिसर साफ सूत्रा रखें हर नागरिक 

शहर स्वच्छ, हरित और सुंदर रखने के लिए ‘लव औरंगाबाद’ उपक्रम के अंतर्गत 31 अक्टूबर से शहर में साफ-सफाई मुहिम हाथ में ली गई. यह मुहिम मनपा कर्मचारी, नागरिक, संस्था, संगठनाओं के माध्यम से चलाई जा रही है. अब तक इस मुहिम में मनपा के 9 जोन कार्यालय, गार्डन, ऐतिहासिक दरवाजे और स्मारकों की साफ -सफाई की गई. नागरिकों ने अपने घर और परिसर भी साफ रखने के लिए आगे आने की अपील मनपा प्रशासक पांडेय ने की है.