वैद्यकीय यंत्रसामग्री खरीदी के लिए घाटी अस्पताल को विधायक सतीश चव्हाण देंगे 50 लाख की निधि

    औरंगाबाद. कोरोना (Corona) महामारी पर ब्रेक लगाने के लिए औरंगाबाद (Aurangabad) के शासकीय वैद्यकीय महाविद्यालय और अस्पताल यानी घाटी में वैद्यकीय यंत्रसामग्री व साहित्य खरीदी के लिए मराठवाड़ा स्नातक निर्वाचन क्षेत्र के विधायक सतीश चव्हाण (MLA Satish Chavan) ने 50 लाख रुपए की निधि (Fund) देने की घोषणा की है।

    कोरोना महामारी के इस संकट के दौरान विधायक चव्हाण ने घाटी अस्पताल का दौरा किया। घाटी के सभी विभाग प्रमुखों से उन्होंने चर्चा कर उनके अड़चनों को जाना। इस अवसर पर घाटी की डीन डॉ. कानन येलीकर, विशेष कार्य अधिकारी डॉ. सुधीर चौधरी, वैद्यकीय अधीक्षक डॉ. सुरेश हरबडे, डॉ. एलएल देशमुख, डॉ. ज्योति बजाज, डॉ. प्रभा खैरे, डॉ. माधुरी कुलकर्णी, डॉ. श्रीनिवास गडप्पा आदि उपस्थित थे। मरीजों पर उपचार करते समय किस तरह की अड़चनें आती हैं, उपचार के लिए कौन-कौन से उपकरण उपलब्ध है, किन उपकरणों की जरुरत है, मनुष्य बल की वर्तमान स्थिति क्या है, इसकी विस्तृत जानकारी विधायक चव्हाण ने ली।घाटी में कोविड से पीडि़त मरीज बड़ी संख्या में भर्ती हो रहे हैं। इस मरीज के लिए विविध यंत्रसामग्री व अन्य उपकरण यह मरीजों की बढ़ती संख्या के  चलते उपचार में कम पडऩे की जानकारी विधायक चव्हाण को मिली।

    पिछले गत वर्ष भी दिए थे विधायक निधि से 10 लाख रुपए

    गौरतलब है कि राज्य सरकार ने जिला  स्तर पर कोरोना को ब्रेक लगाने के कार्यवाही को बल देने के लिए विधि मंडल सदस्यों को प्रति 1 करोड़ रुपए का निधि उपलब्ध कराने का निर्णय लिया है। घाटी में वर्तमान स्थिति में वैद्यकीय यंत्रसामग्री कम होने के कारण 50 लाख रुपए का निधि घाटी प्रशासन को देने का निर्णय लिए जाने की जानकारी विधायक चव्हाण ने दी। ध्यान रहे कि गत वर्ष भी कोरोना संकट में विधायक चव्हाण ने विधायक निधि से 10 लाख रुपए का निधि घाटी अस्पताल को उपलब्ध कराया था।