निराधार का अंतिम संस्कार करने आगे आए विधायक दानवे

– होटल  कामगार का किया अंतिम संस्कार 

औरंगाबाद. शहर के सिडको परिसर में स्थित एक होटल में काम करनेवाले कामगार प्रदीप गंगाधर पवार की 3 दिन पूर्व मौत हुई थी. उसके औरंगाबाद में रिश्तेवाले एक भाई व चाचा है. उन्होंने उसका अंतिम संस्कार करने से इंकार करने पर शिवसेना के जिला प्रमुख तथा विधायक अंबादास दानवे ने उनके द्वारा चलाए जानेवाले अत्योंदय योजना के तहत निराधार कामगार प्रदीप पवार का अंतिम संस्कार किया. विधायक दानवे ने अपने हाथों से पवार के देह को मुखाग्नि दी. 

रिश्तेदारों ने अंतिम संस्कार करने से भी इंकार किया

विधायक दानवे ने बताया कि प्रदीप पवार सिडको एन-6 में स्थित एक होटल में काम करता था. होटल में ही प्रदीप पवार की मौत हुई थी. इस कामगार का बड़ा भाई संदीप पवार तथा चाचा नारायण पवार को  प्रदीप पवार के मौत की जानकारी दी गई, लेकिन उन्होंने देह अपने कब्जे में न लेते हुए अंतिम संस्कार करने से भी इंकार किया. यह जानकारी विधायक अंबादास दानवे को पता चलने पर उन्होंने सिडको थाना के पुलिस निरीक्षक अशोक गिरी से संपर्क कर सारी स्थिति जानी.

उसके बाद विधायक दानवे ने उनके द्वारा निराधारों पर अंतिम संस्कार करने के लिए चलाए जानेवाले अत्योंदय योजना के तहत कैलास नगर में स्थित श्मशान भूमि में कामगार पवार का अंतिम संस्कार किया. अंतिम संस्कार में सेना के उपजिला प्रमुख अनिल पोलकर, उपशहर प्रमुख राजेन्द्र दानवे, विभाग प्रमुख सोमनाथ बोंबले, शाखा प्रमुख गणेश अंबिलवादे, पुलिस हेड कांस्टेबल आरएस ढगे, पप्पू चोपडे, अनिल चव्हाण, प्रकाश चिलघर उपस्थित थे.