बिजली बिल के वृध्दि के खिलाफ मनसे आक्रामक

  • मुख्य अभियंता खंदारे के सामने फाडे बिजली बिल

औरंगाबाद. कोरोना महामारी के रोकथाम के लिए केन्द्र सरकार ने लागू किए लॉकडाउन के दरमियान महावितरण ने मनमानी करते हुए नागरिकों को अधिक दाम के बिजली बिल देने का आरोप मनसे पदाधिकारियों ने लगाते हुए मुख्य अभियंता भुजंग खंदारे से जवाब पूछा. उनसे समाधानकारक जवाब न मिलने पर मनसे पदाधिकारियों ने उनके कैबिन में ही बिजली बिल फाडकर महावितरण के मनमानी का विरोध किया.

मनसे के जिलाध्यक्ष सुहास दाशरथे ने बताया कि मनसे प्रमुख राज ठाकरे ने महावितरण द्वारा राज्य की जनता को अधिक दाम के दिए गए बिजली बिल पर सोमवार तक निर्णय लेने का अल्टिमेटम दिया था. उस पर महावितरण ने कोई निर्णय नहीं लिया. सरकार और महावितरण ने जनता को दिए अधिक दाम के बिजली बिल पर निर्णय न लेने पर गुस्साएं मनसे पदाधिकारियों ने औरंगाबाद परिमंडल के मुख्य अभियंता भुजंग खंदारे से मुलाकात कर उनसे अधिक दाम के बिजली बिल पर कई सवाल पूछे. 

26 नवंबर को मोर्चा निकाला जाएगा

खंदारे द्वारा समाधान कारक जवाब न मिलने पर जिलाध्यक्ष दाशरथे ने उन पर कई सवाल दागकर उनके कैबिन में ही बिजली बिल फाडे. इस अवसर पर मनसे शहराध्यक्ष सतनामसिंह गुलाटी, राजू खरे, नामदेव बेन्द्रे, संदिप कुलकर्णी सहित कई कार्यकर्ता उपस्थित थे. अंत में दाशरथे ने बताया कि बिजली बिल के वृध्दि के खिलाफ मनसे जिलाधिकारी कार्यालय पर 26 नवंबर को मोर्चा निकाला जाएगा.