Subhash Desai

    औरंगाबाद. शिर्डी (Shirdi) से औरंगाबाद (Aurangabad) के लिए स्वतंत्र 88 किलोमीटर सड़क के निर्माण का नियोजन किया जा रहा है। उसके लिए प्रस्ताव (Proposal) तैयार करने का काम जारी है। इस मार्ग का निर्माण राज्य सरकार के एमएसआरडीसी विभाग से होगा। यह जानकारी जिले के पालकमंत्री सुभाष देसाई (Guardian Minister Subhash Desai) ने यहां दी। पालकमंत्री देसाई औरंगाबाद दौरे पर थे। दिन भर उन्होंने कई बैठकों और कार्यक्रमों में उपस्थिति दर्ज कराने के बाद देर शाम आयोजित प्रेस वार्ता में जिले भर में जारी विकास कार्यों पर विस्तार से प्रकाश डाला। उन्होंने बताया कि शिर्डी एयरपोर्ट से लेकर औरंगाबाद तक एक स्वतंत्र 88 किलोमीटर सड़क का निर्माण किया जाएगा। इस सड़क के निर्माण से औरंगाबाद के पर्यटन व्यवसाय को गति मिलेंगी। 

    देसाई ने बताया कि जिले भर में इन दिनों जारी सड़क के कार्यों में बीड बाईपास महामार्ग के चौडीकरण का काम युध्दस्तर पर जारी है। अगस्त एंड तक उक्त महामार्ग के चौडीकरण का काम पूरा होगा। साथ ही अहमदनगर नाका से कैम्ब्रिज के 14 किलोमीटर की सड़क का काम बेहतर रुप से करने का काम जारी है। यह कार्य दिसंबर एंड तक पूरा होगा। इसके अलावा औरंगाबाद से पैठण सड़क  चौडीकरण करने के काम की ऑर्डर अक्टूबर तक दी जाएगी। धुलिया-सोलापुर महामार्ग का काम भी युध्दस्तर पर जारी है। अगस्त तक कन्नड शहर तक इस महामार्ग का काम पूरा होगा। 

    मार्च तक औरंगाबाद में होगी 50 एमएलडी पेयजल की वृध्दि 

    देसाई ने बताया कि औरंगाबाद शहर की पेयजल समस्या हल करने के लिए शुरु की गई 1680 करोड़ की पेयजल योजना का काम शुरु हो चुका है। इसके तहत शहर में 53 पानी के टंकियों के निर्माण का नियोजन कर काम शुरु किया गया है। यह योजना भले ही आगामी तीन साल में पूरी होगी, परंतु दिसंबर एंड तक शहर में 20 एमएलडी तथा अगले वर्ष मार्च एंड तक औरंगाबाद वासियों को 50 एमएलडी पानी अधिक मिलेगा। जिससे शहर के कई इलाकों की पेयजल आपूर्ति की समस्या बड़े पैमाने पर हल होगी। देसाई ने बताया कि शहर के अलग-अलग हिस्सों में निर्माण किए जानेवाले 53 टंकियों में 45 टंकियों के निर्माण के लिए जमीन निश्चित हो चुकी है। बचे 8 के लिए भी जल्द ही जमीन स्थानांतरित होगी। पालकमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार की इस योजना पर करीब से नजर है। उन्होंने कहा कि इस योजना से शहर के सभी इलाकों को समान पेयजल आपूर्ति होगी।

    संत एकनाथ रंग मंदिर को विकसित करने 4 करोड़ का निधि मंजूर 

    शहर के उस्मानपुरा में स्थित संत एकनाथ रंग मंदिर नाटयगृह को विकसित करने के लिए 4 करोड़ रुपए खर्च करने का प्रस्ताव है। इन दिनों मनपा की आर्थिक स्थिति काफी कमजोर है। ऐसे में जिला नियोजन समिति से नाटयगृह के विकास के लिए 4 करोड़ की राशि मंजूर किए जाने की जानकारी पालकमंत्री देसाई ने दी। यह नाटयगृह दिसंबर एंड तक शहरवासियों की सेवा में होगा। देसाई ने बताया कि गुंठवोरी के बस्तियों को नियमित करने के लिए सर्वे हो चुका है। उसके लिए वहां रहनेवाले नागरिकों को कुछ चार्जेस देने होंगे। गुंठेवारी के घरों को नियमितत करने मनपा में स्वतंत्र कार्यालय शुरु किया जाएगा। शहर के गुंठेवारी इलाकों के घरों को नियमित करने का प्रस्ताव सालों से प्रलंबित था। अब यह प्रश्न जल्द हल होने का दावा पालकमंत्री देसाई ने किया।

    टीकाकरण को लेकर जनजागृति करें जनप्रतिनिधि 

    देसाई ने कहा कि कोरोना की ओर कई लहरे आने की आशंका जताई जा रही है। ऐसे में हर नागरिक ने कोरोना टीका लगाना चाहिए। केन्द्र सरकार द्वारा 21 जून से टीकाकरण को लेकर विशेष मुहिम शुरु की जा रही है। उस मुहिम का लाभ नागरिक बड़े पैमाने पर लेंगे। यह विश्वास पालकमंत्री ने जताते हुए शहर सहित जिले भर के जनप्रतिनिधियों से अपील की कि वे टीका लगाने को लेकर जनता में जागृति करें। इन दिनों केन्द्र सरकार के निर्देश पर सिर्फ 45 साल से अधिक उम्र के लोगों को टीका लगाया जा रहा है। देसाई ने  बताया कि औरंगाबाद जिले के लिए 32 लाख 87 हजार टीके लगाने का उध्दिष्ट रखा गया है। अब तक 6 लाख 27 हजार लोगों को टीके लगाए गए है। कोरोना की तीसरी लहर को भी प्रशासन सचेत है। शहर में कोरोना की तीसरी लहर के लिए 300 बेड बालकों के लिए आरक्षित रखें गए है। 

    15 अस्पतालों ने वसूली मरीजों से अधिक राशि 

    जिले के कई अस्पतालों द्वारा बड़े पैमाने पर कोरोना मरीजों से अधिक रकम वसूलने की शिकायतें प्रशासन के पास आई थी। उस पर 57 ऑडिटर के माध्यम से जिले भर के 100 के करीब निजी अस्पतालों का ऑडिट किया गया। इसमें 15 अस्पतालों ने 65 लाख से अधिक राशि मरीजों से वसूली है। ऑडिट के बाद 1 करोड़ से अधिक की राशि निजी अस्पताल द्वारा मरीजों को लौटाई जा रही है। देसाई ने शहर सहित जिले भर में मरीजों की घटती संख्या पर खुशी जाहिर करते हुए नागरिकों से अपील की कि वे अभी भी कोरोना महामारी को लेकर सतर्कता बरतें। हर नागरिक मास्क का इस्तेमाल करने के साथ ही सोशल डिस्टेन्सिंग को तरजीह दें। पत्रकार परिषद में विधायक अंबादास दानवे, शिवसेना जिला प्रमुख मुन्ना त्रिवेदी, कलेक्टर सुनील चव्हाण, मनपा के अतिरिक्त आयुक्त बी.बी. नेमाने उपस्थित थे।