प्राध्यापकों के प्रलंबित प्रश्न हल होंगे

  •  उच्च व तकनीकी शिक्षा मंत्री सामंत ने लिया सकारात्मक निर्णय 
  • विधायक सतीश चव्हाण की जानकारी 

औरंगाबाद. राज्य के वरिष्ठ महाविद्यालय के प्राध्यापक, शिक्षकेतर कर्मचारियों के विविध प्रलंबित प्रश्नों को लेकर उच्च व तकनीकी शिक्षा मंत्री उदय सामंत के अध्यक्षता में मंत्रालय में बुधवार को बैठक आयोजित की गई थी. बैठक में उदय सामंत ने सकारात्मक निर्णय लेते हुए प्रलंबित प्रश्न हल करने के लिए तत्काल अमलीजामा पहनाने के लिए हामी भरी है. यह जानकारी मराठवाडा स्नातक निर्वाचन क्षेत्र के विधायक सतीश चव्हाण ने दी.

उन्होंने बताया कि वरिष्ठ महाविद्यालय के प्राध्यापक तथा शिक्षकेतर कर्मचारियों के प्रलंबित प्रश्नों के बारे में बैठक आयोजित करने की विनंती मैंने राज्य के उच्च व तकनीकी शिक्षा मंत्री उदय सामंत से की थी. उसके अनुसार बुधवार को मंत्रालय में उदय सामंत के कैबिन में बैठक आयोजित की गई. बैठक में प्रमुख रुप से सहायक प्राध्यापकों की भर्ती प्रक्रिया, क्लॉक बेसिक पर  कार्यरत प्राध्यापकों का बकाया वेतन, अकृषिक विश्वविद्यालय के शिक्षकेतर कर्मचारियों को सातवां वेतन आयोग लागू करना, बिगर नेट व सेटधारक तदर्थ  प्राध्यापकों के प्रलंबित प्रश्नों पर चर्चा होने की जानकारी विधायक चव्हाण ने दी. 

बकाया वेतन तत्काल दिया जाएगा

राज्य के वरिष्ठ महाविद्यालय के सहायक प्राध्यापकों की भर्ती प्रक्रिया तत्काल शुरु करने के लिए वित्त विभाग की मंजूरी लेकर यह प्रश्न तत्काल हल किया जाएगा. क्लॉक बेसिक पर काम करनेवाले प्राध्यापकों का बकाया वेतन तत्काल दिया जाएगा. इसमें जिन प्राध्यापकों ने क्लॉक बेस पर छात्रों को शिक्षा दी, उसमें एक भी प्राध्यापक वेतन से वंचित नहीं रहेगा. इस पर विशेष लक्ष्य केन्द्रीत किए जाने का आश्वासन उच्च व तकनीकी शिक्षा मंत्री सामंत ने दिया. साथ ही वरिष्ठ महाविद्यालय के प्राध्यापकों का 71 दिन की हड़ताल का वेतन निर्गमित करने के बारे में जल्द निर्णय लिया जाएगा. 

7वां वेतन लागू करने के बारे में बैठक में सकारात्मक चर्चा 

अकृषिक विश्वविद्यालय के शिक्षकतर कर्मचारियों को 7वां वेतन लागू करने के बारे में बैठक में सकारात्मक चर्चा हुई. इस बारे में जायजा लेकर जो शिक्षकेतर कर्मचारी 7वां वेतन आयोग को पात्र हैं, उन्हें 7वां वेतन आयोग लागू करने के बारे में जल्द निर्णय लिया  जाएगा. राज्य के हमेशा के लिए  बिना अनुदानित तत्व के वरिष्ठ महाविद्यालय का कायम शब्द हटाने के बारे में जल्द ही वित्त विभाग से चर्चा कर यह प्रश्न हल करने का आश्वासन सामंत ने दिया. बिगर नेट सेट धारक तदर्थ प्राध्यापकों के प्रलंबित प्रश्नों पर आगामी बुधवार को डिप्टी सीएम अजीत पवार के साथ बैठक आयोजित करने की जानकारी उदय सामंत ने बैठक में दी. बैठक में विधायक सतीश चव्हाण के अलावा विधायक दत्तात्रय सावंत, विधायक बलीराम पाटिल, विधायक श्रीकांत देशपांडे, विधायक मनीषा कायंदे उपस्थित थे.