Recognition of important projects by ASCDCL Board, 14th meeting of ASCDSL concluded in the presence

    औरंगाबाद. औरंगाबाद स्मार्ट सिटी डेवलपमेंट कार्पाेरेशन लि. (Aurangabad Smart City Development Corporation Ltd.) (एएससीडीसीएल) की 14वीं  मंडल की बैठक शुक्रवार को संपन्न हुई। बैठक में इंटिग्रेटेड कमांड एंड सेंटर, रास्ते परिवर्तन (Diversion of Routes) और ऐतिहासिक गेट इन प्रकल्पों पर महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए। राज्य सरकार (State Government) के उद्योग विभाग के अपर सचिव बलदेव सिंह (Baldev Singh) की हाल ही में एएससीडीसीएल मंडल (ASCDCL Board) के अध्यक्ष पद पर नियुक्ति के बाद प्रथम बोर्ड की बैठक औरंगाबाद में संपन्न हुई।

    बैठक में अध्यक्ष के अलावा एएससीडीसीएल के सीईओ आस्तिककुमार पांडेय, कलेक्टर  सुनील चव्हाण, मंडल के स्वतंत्र संचालक भास्कर मुंडे, ऑरिक इंडस्ट्रीयल सिटी के एम.डी. रंगा नाईक, एएससीडीसीएल के अतिरिक्त सीईओ अरुण शिंदे, उपमुख्य कार्यकारी अधिकारी पुष्कल शिवम तथा औरंगाबाद माहानगरपालिका के शहर अभियंता सखाराम पानझडे उपस्थित थे। बैठक में आस्तिककुमार पांडेय ने मास्टर  सिस्टम इंटिग्रेटर प्रकल्प (एमएसआई), हेरिटेज गेट और शहागंज क्लॉक टॉवर संरक्षण, जीर्णाेद्वार और सुशोभिकरण, सफारी पार्क प्रकल्प, ऑपरेशन कमांड सेंटर और (एएससीडीसीएल मुख्यालय का निर्माण कार्य, स्मार्ट सिटी बस डिपो, क्रांति चौक उड़ान पुल के निचे के स्थान का सुभोभिकरण, मौलाना अबूल कलाम आजाद संशोधन केंद्र के मरम्मत का कार्य, लव योर सिटी, संत एकनाथ रंग मंदिर के स्टेज का विकास और प्रकाश योजना ऐसे विविध स्मार्ट सिटी प्रकल्पों की प्रगति और स्थिति के बारे में मंडल को जानकारी दी। 

    महागरपालिका ने औरंगाबाद स्मार्ट सिटी प्रकल्प में स्थानीय स्वराज्य संस्था के हिस्सेदारी के 68 करोड़ का योगदान दिए जाने की जानकारी भी पांडेय ने बैठक में दी। मंडल ने एकात्मिक  कमांड कंट्रोल सेंटर के लिए निविदा जारी करने, डिजीटल आऊटडोर डिस्प्लेपर विज्ञापन के लिए निविदा, 25 जंक्शनों पर स्मार्ट ट्रैफिक सिग्नल  बिठाना, लाईट हाउस कौशल्य विकास केंद्र के लिए सिडको एन-5 कम्युनिटी सेंटर के  विकास  के अलावा अन्य कई महत्वपूर्ण कामों के निविदा प्रक्रियाओं को मंजूरी दी गई। एएससीडीसीएल के अतिरिक्त मुख्य सीईओ अरुण शिंदे ने इससे पूर्व चर्चा संदर्भ, ऑरिक एमडी रंगा नाईक ने ऐसे क्षेत्र प्रस्तावित किए है, जिसमें दोनो स्पेशिअल पर्पस वेईकल (एसपीवी ) सेवा और प्रकल्प सुधारने के लिए एक दूसरे को सहकार्य कर सके। स्मार्ट  सिटी बस सेवा में ऑरिक को शामिल करना, सार्वजनिक यातायात के लिए नेशनल कॉमन मोबिलिटी कार्ड का एकत्रीकरण, औरंगाबाद महानगरपालिका के घनकचरा व्यवस्थपापन और शहरों के संसाधन के वितरण के लिए उन्होंने एएससीडीसीएल के पास मांग की। इस पर बोर्ड के अध्यक्ष बलदेव सिंह ने कहा कि आगे चर्चा कर दोनों संस्था सामंजस्य करार कर सकते।