‘सामाजिक सौहार्द और सुरक्षा अभियान’ किताब का पालकमंत्री के हाथों विमोचन

औरंगाबाद. औरंगाबाद ग्रामीण की एसपी मोक्षदा पाटिल के संकल्पना से आगामी एक माह तक जिले भर में सामाजिक सौहार्द बनाए रखने के लिए सामाजिक सौहार्द और सुरक्षा अभियान चलाने का नियोजन किया गया है. उसके लिए तैयार की गई नियोजन पुस्तिका का विमोचन बुधवार को जिले के पालकमंत्री सुभाष देसाई के हाथों जिलाधिकारी कार्यालय में किया गया.

एसपी मोक्षदा पाटिल की संकल्पना

इस अवसर पर राज्य के फलोत्पादन मंत्री संदिपान भुमरे, ग्रामीण विकास राज्यमंत्री अब्दुल सत्तार, विभागीय कमिश्नर सुनील केन्द्रेकर, शहर के सीपी डॉ. निखिल गुत्ता, जिलाधिकारी सुनील चव्हाण, मनपा कमिश्नर आस्तिककुमार पांडेय प्रमुख रुप से उपस्थित थे. एसपी मोक्षदा पाटिल ने पत्रकारों को बताया कि सामाजिक सौहार्द और सुरक्षा अभियान के माध्यम से अगली रुपरेखा तय की गई है. जिले के हर गांव में पहले से कार्यरत साम्प्रदायिक सौहार्द बनाए रखनेवाले सदस्य, मोहल्ला कमेटी, प्रतिमा संरक्षण कमेटी, ग्राम रक्षक दल इनको संबंधित थाना के पीआई और पीएसआई यह समक्ष मिलकर मार्गदर्शन करेंगे.

लघु नाट्य के माध्यम से मार्गदर्शन

मार्गदर्शन में पथनाट्य और शॉर्ट ड्रामा तैयार कर उसका वीडियो दिखाया जाएगा. इसके माध्यम से मामूली बात पर किस प्रकार विवाद होते हैं, इसके कारण समझाए जाएंगे. साथ ही प्रतिमा, झंडे लगाने के बाद किस तरह जनता में गलत फहमियां पैदा होकर अपराध दर्ज होकर समाज में तनाव पैदा होता. एंटी पुलिस, एंटी सोशियअल एलिमंटस को भी इस अभियान में शामिल करने से उसमें भी सकारात्मक प्रवृत्ति तैयार कराकर लेने पर जोर दिया जाएगा. सभी समाज के युवा वर्ग को शामिल कराकर लेकर एकता और भाईचारा पर वैचारिक और सकारात्मक जानकारी लेकर उन्हें एक तरह की दिशा देने का काम किया जाएगा. एसपी मोक्षदा पाटिल ने बताया कि सोशल मीडिया के माध्यम से समाज भावनाओं को दूषित करनेवाले पोष्ट के बारे में तर्क शुध्द पध्दति से देखने को लेकर मार्गदर्शन किया जाएगा. युवाओं ने उपद्रवियों के झांसे में न आए इसको लेकर कॉलेज, स्कूल में कार्यक्रमों का आयोजन कर जागरुक किया जाएगा. वहीं, सभी त्यौहार, उत्सव मनाते समय अनावश्यक खर्च टालकर उसका विनियोग समाज के सभी जाति धर्म के लोगों के कल्याण के लिए  करने को लेकर जनजागृति की जाएगी.