मराठा आरक्षण को लेकर मराठा क्रांति मोर्चा की औरंगाबाद में राज्यस्तरीय बैठक कल

औरंगाबाद. सुप्रीम कोर्ट ने मराठा आरक्षण को अस्थायी रुप से स्थगित कया है और मराठा समाज के प्रलंबित मांगों पर राज्य सरकार गंभीर नहीं है.  यह आरोप मराठा क्रांति मोर्चा ने लगाकर मराठा आरक्षण पर अगली दिशा तय करने शनिवार को औरंगाबाद में राज्यस्तरीय बैठक का आयोजन किया है. यह जानकारी मराठा क्रांति मोर्चा के राज्य समन्वयक रविन्द्र काले ने दी.

उन्होंने बताया कि बैठक शहर के शहानुर मियां दरगाह के निकट स्थित एक पवेलियन हॉल में होगी. बैठक में राज्य भर के मराठा क्रांति मोर्चा के समन्वयक नीतिगत निर्णय लेंगे. बैठक का आयोजन मराठा क्रांति मोर्चा, मराठा क्रांति ठोक मोर्चा और सकल मराठा समाज नामक संगठनों की ओर से किया गया है. शनिवार की सुबह 11.30 बजे राज्यस्तरीय बैठक आरंभ होगी. रविन्द्र काले ने बताया कि मराठा आरक्षण के निर्णय को सुप्रीम कोर्ट ने अस्थाई रुप से स्थगिति दी है.

बैठक में आंदोलन की अगली दिशा तय होगी

मराठा समाज के विविध मांगों पर अब तक राज्य सरकार ने कोई निर्णय नहीं लिया है. राज्य सरकार आरक्षण व मराठा समाज के मांगों के बारे में गंभीर नहीं है. राज्य सरकार ने आज तक कई घोषणाएं की, परंतु उस पर प्रत्यक्ष रुप से अमलीजामा नहीं पहनाया. साथ ही मराठा आरक्षण में केन्द्र सरकार भी हस्तक्षेप न करते हुए अपनी राजनीति खेल रही है. कई राजनेता अपने ही भाईयों के सहारे मराठा क्रांति मोर्चा के आंदोलन को राजनीतिक अखाड़ा बनाने के फिराग में है. जिससे मराठा समाज के मन में असंख्य प्रश्न निर्माण हो रहे है. ऐसे में मराठा क्रांति के आंदोलन की अगली दिशा तय करने के शनिवार को औरंगाबाद में राज्यस्तरीय बैठक का आयोजन किया गया है. बैठक में राज्य के प्रमुख मराठा समन्वयक, पदाधिकारी हिस्सा लेंगे.यह जानकारी रविन्द्र काले ने दी.