पुलिस कर्मचारी पर हो सख्त कार्रवाई

  • विधायक अंबादास दानवे ने की मांग

औरंगाबाद. नाबालिग लडकी का विनयभंग करनेवाले पुलिस हेड कांस्टेबल वाय पी झाल्टे की जांच करने के अलावा उस पर आरोप दर्ज करने और सख्त कार्रवाई करने की मांग विधायक अंबादास दानवे ने विधान परिषद की उपसभापति नीलम गोरे को एक पत्र लिखकर की. इस मांग पर उक्त पुलिस कर्मचारी पर तत्काल आरोप दर्ज करने के  निर्देश दिए गए हैं. 

पुलिस कर्मचारी पर कार्यवाही न होने पर इसके खिलाफ आगामी अधिवेशन में आवाज उठाने की चेतावनी विधायक अंबादास दानवे ने दी. दानवे ने बताया कि पीडित दलित लड़की ने पुलिस उपमहासंचालक और एसपी से मुलाकात कर  और दूरभाष से संपर्क कर शिकायत की थी. उस शिकायत की दखल नहीं ली गई. लड़की नाबालिग होने और परिवार के लोग साथ न देने के कारण उस पर दबाव डालकर अलग-अलग बयान दर्ज किए गए. उक्त हेड कांस्टेबल पर लोकसभा चुनाव में साम्प्रदायिक प्रचार करने को लेकर भी मामला दर्ज है. इसके बावजूद उस पर आज तक कार्रवाई नहीं हुई. ऐसे में नाबालिग लड़की पर हुए अन्याय की गहराई से जांच करने के निर्देश देकर उक्त हेड़ कांस्टेबल के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की मांग दानवे ने की. अंत में दानवे ने चेताया कि पुलिस प्रशासन ने उक्त हेड़ कांस्टेबल पर सख्त कार्रवाई नहीं की तो वे आगामी अधिवेशन में विधान परिषद सभागृह में इस मामले में आवाज उठाएंगे.