The work done under the Integral Energy Development Scheme will be audited by a three-tier committee

    औरंगाबाद. जिले के शहरी और ग्रामीण परिसर के किसान और आम नागरिकों को सूचारु व समय पर बिजली आपूर्ति हो, इसलिए केन्द्र व राज्य सरकार की ओर से कई योजना और प्रकल्पों पर अमलीजामा पहनाया गया। शहर में एकात्मिक ऊर्जा विकास योजना के अंतर्गत हुए हल्के दर्ज के काम तथा त्रुटियों के बारे में कई प्रश्न उपस्थित होने पर सांसद इम्तियाज जलील (MP Imtiaz Jaleel) ने इन कामों की जांच (Inspection) त्रिसदस्यीय समिति (Three Member Committee) द्वारा कर दोषी अधिकारियों और ठेकेदारों पर कानूनी कार्रवाई करने प्रस्तावित करने की जानकारी दी।

    सांसद इम्तियाज जलील के अध्यक्षता में महाराष्ट्र राज्य बिजली मंडल के औरंगाबाद परिमंडल की जायजा बैठक मिल कार्नर पर स्थित परिमंडल के मुख्य कार्यालय में संपन्न हुई। बैठक में महावितरण के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे। विभाग अंतर्गत वाले सभी मामले, योजना, प्रकल्प, केन्द्रीय निधि से हुए काम, नागरिकों के प्रलंबित प्रश्न और समस्याओं पर विस्तार से चर्चा कर आम नागरिकों को बारिश के मौसम में सूचारु बिजली करने की सूचना सांसद जलील ने की। बैठक के आरंभ में मुख्य अभियंता भुजंग खंदारे ने महावितरण के औरंगाबाद परिमंडल में जारी विकास कार्यों की विस्तृत जानकारी दी। सारी जानकारी लेने के बाद सांसद जलील ने कोरोना काल में बिजली अधिकारी और कर्मचारियों ने दिन- रात मेहनत कर जनता को बेहतर बिजली आपूर्ति की सेवा देने को लेकर प्रशंसा करते हुए उन्हें असली कोरोना योद्धा संबोधित किया। 

    सड़कों को बाधित करने वाले खंभें तत्काल हटाएं 

    शहर के कई  प्रमुख सड़कों का काम पूरा चुका है, लेकिन सड़कों के मध्य में आए स्ट्रीट लाइट के खंभे आज तक नहीं हटाए गए। इस पर सांसद जलील ने नाराजगी जताते हुए खंभों से सड़कों के निर्माण में आ रही बाधाओं पर प्रकाश डालते हुए तत्काल खंभे हटाने की सूचना अधिकारियों से की। जलील ने बताया कि यह मामला कई माह से प्रलंबित है। अधिकारियों को खंभे हटाने को लेकर बार-बार सूचनाएं देने के बावजूद उस पर अमलीजामा नहीं पहनाया जा रहा। इस पर भी सांसद जलील ने कड़ी नाराजगी जताई।

    नागरिकों के प्रलंबित प्रश्न तत्काल हल करें 

    सांसद जलील ने बैठक में नागरिकों के प्रलंबित प्रश्नों और समस्याओं का तत्काल निपटारा करने के निर्देश अधिकारियों को दिए। उसमें प्रमुख रुप से नागरिकों के घरों के ऊपर से जानेवाले बिजली के तार, हिमायत बाग के 11 केवी के प्रलंबित काम, उध्दव राव पाटिल चौक और शहर के प्रमुख परिसर के प्रलंबित वाले बिजली कनेक्शन सहित अन्य प्रश्नों को तत्काल हल करने के निर्देश दिए। महावितरण ने ग्राहक शिकायत निवारण केन्द्र और कॉल सेंटर आधुनिक कर नागरिकों को बेहतर जवाब देने की सूचना उपस्थित अधिकारियों को दिए।