Three MIM corporators who helped Shiv Sena in Jalgaon mayoral election suspended

    औरंगाबाद. दो दिन पूर्व संपन्न हुए जलगांव महानगरपालिका (Jalgaon Municipal Corporation) के महापौर (Mayor) और उप महापौर (Deputy Mayor) पद के चुनाव में एमआईएम (MIM) के तीन नगरसेवकों ने पार्टी आलाकमान से बिना विचार-विमर्श किए शिवसेना (Shiv Sena) को मतदान किया। इसको लेकर एमआईएम के तीन नगरसेवकों को पार्टी से निलंबित (Suspended) कर उन्हें कारण बताओ को नोटिस जारी किया गया है। यह जानकारी एमआईएम के प्रदेश कार्याध्यक्ष डॉ. गफार कादरी ने आयोजित पत्रकार परिषद में दी।

    उन्होंने बताया कि शिवसेना एक साम्प्रदायिक पार्टी है। उसके मुखिया और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Chief Minister Uddhav Thackeray) ने विधानसभा में बाबरी मस्जिद ढ़हाने में शिवसैनिकों का हाथ होने पर गर्व महसूस किया था। ऐसी साम्प्रदायिक पार्टी के उम्मीदवार को जलगांव का महापौर व उपमहापौर बनाने के लिए एमआईएम के तीन नगरसेवक रियाज अहमद बागवान, सईदा यूसूफ शेख, सुन्ना राजू देशमुख ने मतदान किया। यह पार्टी के विचारधारों व नीतियों के खिलाफ है। उन तीनों नगरसेवकों को पार्टी के प्रदेश आलाकमान द्वारा कारण बताओ नोटिस जारी कर  पार्टी से निलंबित भी किया गया है। 

    पार्टी के विचारधारा व नीतियों को ठेस पहुंची

    एक सवाल के जवाब में डॉ. गफार कादरी ने बताया कि पार्टी के जिलाध्यक्ष झिया अहमद बागवान  और तीन नगरसेवकों ने मिलकर शिवसेना को मतदान करने का निर्णय लिया। इससे पार्टी के विचारधारा व नीतियों को ठेस पहुंची है। इस मामले को पार्टी ने गंभीरता से लेकर उन नगरसेवकों से स्पष्टीकरण मांगा है। उन तीनों नगरसेवकों को रविवार को औरंगाबाद में स्पष्टीकरण के लिए तलब किया गया है। प्रदेश कार्याध्यक्ष डॉ. कादरी ने  राज्य भर के एमआईएम नगरसेवकों को चेताया कि वे शिवसेना, भाजपा के अलावा खुद को सेक्यूलर पार्टी कहनेवाले कांग्रेस व एनसीपी का साथ ना दें। स्थानीय निकाय चुनाव में कोई भी निर्णय लेने से पहले प्रदेश पदाधिकारियों को अवगत कराएं। वरना, पार्टी से गद्दारी करनेवाले नगरसेवकों को सबक सिखाया जाएगा। 

    हर जिले में फैल रहा एमआईएम का जाल 

    डॉ. गफार कादरी ने बताया कि पार्टी सुप्रीमो असदुद्दीन ओवैसी के मार्गदर्शन में एमआईएम का जाल महाराष्ट्र में लगभग हर जिले में फैल रहा  है। पश्चिम महाराष्ट्र के पुणे, सातारा, कोल्हापुर, सांगली तथा विदर्भ गड़चिरोली छोड़कर राज्य के सभी जिलों में प्रदेश कार्यकारिणी के अलावा तहसील कार्यकारिणी का गठन हो चुका है। हर रिजन वाईज एक कॉर्डिनेटर नियुक्त किया गया है। इस तरह हर जिले में पार्टी अपनी जड़ें जमा रही है। आगामी सभी स्थानीय निकाय चुनावों में एमआईएम बेहतर प्रदर्शन करने का दावा पार्टी के प्रदेश कार्याध्यक्ष डॉ. गफार कादरी ने किया। पत्रकार  परिषद में शहराध्यक्ष शाहरेख नक्शबंदी, पूर्व नगरसेवक विकास एडके उपस्थित थे।