महिंद्रा का शुद्ध तिमाही लाभ 88 प्रतिशत गिरा, ऑस्ट्रेलिया में बंद किया विमान विनिर्माण संयंत्र

मुंबई: महिंद्रा एंड महिंद्रा (Mahindra & Mahindra) का शुद्ध लाभ चालू वित्त वर्ष की 30 सितंबर को समाप्त तिमाही में 88 प्रतिशत गिरकर 162 करोड़ रुपये रहा। इसकी प्रमुख वजह दीर्घावधि के कुछ निवेशों के लिए 1,149.46 करोड़ रुपये के नुकसान का प्रावधान करना है। पिछले वित्त वर्ष 2019-20 की इसी अवधि में कंपनी का शुद्ध लाभ 1,355 करोड़ रुपये था। 

समीक्षावधि (Review Period) में कंपनी की आय सालाना आधार पर 10,935 करोड़ रुपये से बढ़कर 11,590 करोड़ रुपये हो गयी। कंपनी ने ऑस्ट्रेलिया (Australia) में अपने विमान विनिर्माण (Aircraft Manufacturing) कारोबार को बंद करने की भी घोषणा की। कंपनी इसकी बिक्री करेगी। महिंद्रा एंड महिंद्रा के प्रबंध निदेशक और समूह मुख्य वित्त अधिकारी अनीश शाह ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘हमने ऑस्ट्रेलिया में गिप्स एरो कारोबार को बंद कर दिया है। इस संयंत्र में आठ और 10 सीटों वाले विमान का विनिर्माण किया जाता था। कंपनी इसकी बिक्री करेगी लेकिन यदि कोई खरीदार नहीं मिलता है तो भी कंपनी इसका काम बंद कर चुकी है।” 

उन्होंने कहा कि, इस समय कंपनी पूरा ध्यान अपनी अंतरराष्ट्रीय अनुषंगियों पर दे रही है। वित्त वर्ष की समाप्ति तक उन तीन बिंदुओं पर स्थिति स्पष्ट हो जाएगी। जिन पर पहले चर्चा की जा चुकी है। (एजेंसी)