बाल झड़ने से रोकना है तो महीने में एक बार जरूर कराएं हेयर स्पा: प्रीती अमनेकर

    बाल झड़ना आज एक आम समस्या बन गई है। ये खराब खान-पान और मानसिक तनाव का नतीजा है। इसके कारण कम उम्र में ही लोगों के बाल झड़ने शुरू हो जाते हैं। हेयर एक्सपर्ट्स और ब्यूटीशियन प्रीती नानेश्वर की मानें तो दिनभर में लगभग 20-25 बाल गिरना नॉर्मल होता है, लेकिन अगर आपके ज्यादा बाल टूट रहे हैं तो यह चिंता का विषय है। इस समस्या को खत्म करने के लिए उन्होंने अपने घर में यूनिक ब्यूटी पार्लर खोल रखा है।

    यहां वे मेकअप एकेडमी चलाती हैं जहां हर उम्र की महिलाएं एवं लड़कियां आती हैं। यहां वे बालों से संबंधित समस्याओं के कारण और उसके निदान पर चर्चा करती हैं। उन्हें खुद के द्वारा तैयार किया हुआ सिलेबस पढ़ाने के साथ ही प्रैक्टिकल ट्रेनिंग भी देती हैं। इतना ही नहीं, ट्रेनिंग पूरी होने के बाद महिलाओं और युवतियों को डिप्लोमा भी देती हैं जिससे वे लोन लेकर अपना खुद का व्यवसाय शुरू कर सकें।

    वे यह काम वर्ष 2018 से कर रही हैं। वे कम बजट में अपने यहां 2 महीने का कोर्स करने वाली महिला और युवतियों को फेशियल,  हेयर कटिंग, हेड और बॉडी मसाज, थ्रेडिंग, कपल मेकअप के साथ सिंपल मेकअप करने की प्रैक्टिकल ट्रेनिंग देती हैं। उनका मानना है कि हर महिला को कुछ न कुछ हुनर सीखना चाहिए। जिससे उनका सेल्फ कॉन्फिडेंस तो बढ़ता ही है, साथ ही इनकम का नया सोर्स भी खुलता है। बाल झड़ने की समस्या के कारण और निदान के बारे में प्रीती नानेश्वर ने कुछ सवालों के जवाब लिए। यह लोगों के लिए उपयोगी साबित हो सकते हैं।

    बाल झड़ने की सबसे बड़ी वजह क्या है?

    बाल झड़ने के यूं तो कई कारण हैं लेकिन सबसे बड़ी वजह बिगड़ती लाइफस्टाइल और तनाव को माना जाता है। शरीर में पोषक तत्वों की कमी और खराब खान-पान का असर भी बालों पर पड़ता है। एक्सपर्ट्स की मानें तो अधिक बाल झड़ना स्वास्थ्य समस्या, मानसिक परेशानी या फिर किसी खास प्रकार की बीमारी का संकेत भी हो सकता है।

    ऐसे में आपको तुरंत डॉक्टर से परामर्श लेना चाहिए। अगर हेयर केयर प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करने या फिर शैंपू और तेल बदलने से भी हेयर फॉल की परेशानी कम नहीं हो रही तो आप घरेलू नुस्खों की भी मदद ले सकते हैं। यह नुस्खे नेचुरल तरीके से आपके बालों को घना और मजबूत बनाने में मदद करते हैं।

    हेयर फॉल की समस्या से कैसे बचें?

    अक्सर शरीर में पोषक तत्वों की कमी के कारण बाल झड़ने की समस्या होती है। ऐसे में हेयर फॉल की परेशानी से निजात पाने के लिए आप अपनी डाइट में प्रोटीन और विटामिन से भरपूर चीजें शामिल कर सकते हैं। हेयर प्रॉब्लम्स से छुटकारा पाने के लिए खाने में हरी सब्जियों, दाल और बीन्स आदि को शामिल कर सकते हैं। मेथी के बीज भी हेयर फॉल प्रॉब्लम्स से छुटकारा दिला सकते हैं। इसमें मौजूद प्रोटीन, आयरन और निकोटिनिक एसिड बालों की जड़ों को मजबूत बनाते हैं। ऐसे में आप तेल में मेथी के बीज मिलाकर उसका इस्तेमाल कर सकते हैं।

    डैंड्रफ बालों की सबसे बड़ी समस्या है, ये क्यों होता है?

    डैंड्रफ का सबसे बड़ा कारण बालों की जड़ों में जमा मैल होता है। ज्यादातर महिलाएं शैंपू से बाल तो धोती हैं लेकिन उनकी जड़ों को साफ नहीं कर पाती हैं, जिससे चिकनाई बालों की जड़ों में चिपकी रहती है। यही चिकनाई डैंड्रफ का कारण बनती है। मैं अपनी क्लास में महिलाओं को डैंड्रफ से बचाव के तरीके बताती हूं।

    औषधीय गुणों से भरपूर प्याज में एंटीमाइक्रोबियल और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण मौजूद होते हैं। यह स्कैल्प को मजबूत बनाने में मदद करते हैं। बालों की समस्या से छुटकारा पाने के लिए आपको नियमित तौर पर प्याज का रस जड़ों में लगाना चाहिए। इससे बालों की जड़ें मजबूत होती हैं।

    बालों की देखभाल कैसे करें?

    महिलाएं बालों को ज्यादा कसकर न बांधें, ऐसा करने से ज्यादा बाल टूट सकते हैं। कंघी को साफ रखें। बाहर निकलते समय धूप में सिर को ढक लें, इससे आपके बाल सूरज की हानिकारक किरणों और प्रदूषण से बचे रहेंगे। अपने बालों पर बार-बार हाथ न फेरें। बालों को गर्म पानी से नहीं धोना चाहिए। ऐसा करने से बाल रूखे, बेजान और खराब हो सकते हैं। सबसे ज्यादा जरूरी है तनाव या चिंता से दूर रहना, योग करना व ध्यान लगाना।