रेत ट्रैक्टर पर कार्रवाई, 4 महिला पटवारियों ने की बहादुरी

मोहाडी. रेत चोरों पर अंकुश लगाने के लिए 4 महिला पटवारी एक साथ आई. और उन्होंने बोथली रेत घाट पर छापा मारा. इस दौरान भागने वाले ट्रैक्टर को जब्त कर लिया गया. मोहाडी के सभी लोगों ने ऐसी असाधारण महिला शक्ति को देखा. इस दौरान मोहाडी तहसील की चार महिला पटवारियों ने अपनी ताकत, बहादुरी एवं बुद्धि का प्रदर्शन किया.

बनाई गई योजना

बोथली, मोहगांव देवी, नेरी आदि रेत घाटों से रेत चोरी होती है. 3 दिन पहले नेरी घाट पर 4 रेत ट्रैक्टर पकड़े गए थे. इस कार्रवाई में  नेरी की महिला पटवारी निरंजनी मदनकर आगे आई. महिला पटवारियों की एक टीम बनाने और रेत चोरों पर छापा मारने का विचार मोहगांव देवी की पटवारी सरस्वता झाड़े के दिमाग में आया. योजना महिला पटवारी निरंजनी मदनकर, सरस्वता झाडे, प्रिया बांते व मीरा शेंडे द्वारा बनाई गई थी. सुबह 8 बजे एक कर्मचारी के मोटर वाहन से आकर बोथली के रेत के घाटों पर छापा मारा.  उस समय एक ट्रैक्टर चालक मजदूरों के हाथों से रेत भर रहा था.

इन महिला पटवारियों को देखते ही ट्रैक्टर चालक भाग गया. महिला पटवारी निरंजनी मदनकर, सरस्वता झाडे, प्रिया बांते व मीरा शेंडे ने भागने वाले बिना नंबर के ट्रैक्टर को पकड़ लिया  एवं रेत से भरा ट्रैक्टर पुलिस स्टेशन वरठी में लाया गया. ट्रैक्टर चालक रोशन भुरे का बयान पुलिस स्टेशन में दर्ज किया गया है. रेत चोरी की एफआयआर वरठी पुलिस थाना में कराई गई. 10,000 रुपये की रेत चोरी एवं 1 लाख 20,000 का जुर्माना व राजस्व जुर्माना लगाया गया है. 

पुलिस से कोई सहायता नहीं

उल्लेखनीय है कि इन महिला पटवारियों ने रेत की चोरी पकड़ने के लिए पुलिस से कोई सहायता नहीं ली थी. इन महिलाओं ने दिखाया है कि हम हर क्षेत्र में एक कदम आगे है. हमने महिला कर्मचारियों को सशक्त बनाया है. इस घटना के कारण, मोहाडी तहसील में महिला कर्मचारियों को बदलाव की दिशा मिली है. यह साहसी निर्णय एवं पहल दूसरों को प्रेरित करती है. 

एक नई दिशा : सरस्वता

मोहगाव देवी की पटवारी सरस्वता झाडे ने कहा कि महिलाएं कड़ी मेहनत करने में अग्रणी है. हमने इसे साबित किया. महिलाओं के आत्मसम्मान को एक नई दिशा मिलने जा रही है.