Praful Patel

  • करड़ी में राकां की प्रारूप बैठक

भंडारा (का). 2 महीनों पूर्व ही मैने घोषित किया था कि धान को बोनस मिलेगा. हमारे किसान सुखी तो गांव और जिला सुखी. केंद्र की मोदी सरकार ने धान को 1,868 रु. का भाव दिया है. इस भाव से किसानो को राहत नहीं मिली. इस भाव से उन्हें आर्थिक नुकसान ही पहुंचा है. 5 वर्ष की भाजपा सरकार के कार्यकाल में धान को कभी भी 2,000 रुपए से अधिक भाव नहीं मिला. जनता ने 5 वर्ष के लिए जिसे सांसद के रूप में चुना है वह सांसद कहां है, ऐसा सवाल है. कई लोगों को यह पता भी नहीं है की जिले का सांसद कौन है.

भाजपा के झूठे प्रचार से जनता भ्रमित है. हमने 2 वर्ष पूर्व ही घोषित किया था की धान को 2,500 रुपए का भाव मिलेगा. इस वर्ष भी महाराष्ट्र सरकार को मजबूर किया है की धान उत्पादक किसानों को 700 रु. बोनस दिया जाए. पहले जो कहां था उसे हमने पूरा कर दिखाया है. क्षेत्र की सिंचाई परियोजना का काम किसने पूरा किया व अधूरा काम तथा क्षेत्र के विकास के काम कौन कर सकता है इसकी जानकारी होनी चाहिए. लंबित सिंचाई परियोजना के बारे में अवगत कराने की बात सांसद प्रफुल पटेल ने बताई.

मोहाड़ी तहसील राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी की ओर से तहसील के करड़ी में कला व वाणिज्य महाविद्यालय के प्रांगण में आयोजित बैठक में मार्गदर्शन करते हुए बोल रहे थे.इस अवसर पर सांसद पटेल ने कार्यकर्ताओं से आह्वान किया कि आगामी जिप व पंस चुनाव को लेकर कार्यकर्ता कार्य में अभी से जुट जाए. बैठक में सांसद प्रफुल पटेल, विधायक राजू कारेमोरे, नाना पंचबुद्धे, मधुकर कुकडे, धनंजय दलाल, वासुदेव बांते, देवचंद ठाकरे, यशवंत सोनकुसरे, झगडू बुधे, श्रीकांत पेठे, चंदू सेलोकर, रमेश पारधी, प्रमिला साकुरे, अल्का बांते, तारा हेडाऊ, अनिल काले, महादेव फुसे, महादेव बुरडे के साथ अन्य उपस्थित थे.