Coronavirus
File Photo

  • रिकवरी रेट में जबरदस्त गिरावट
  • जिले में 3,755 एक्टिव मरीज 

भंडारा. शुक्रवार को जिले में कोरोना के कहर ने गति पकड़ी है. जो इस बात की ओर इंगित कर रही है कि समय रहते जिलाधिकारी संदीप कदम के मार्गदर्शन में जिले में कड़े कदम नहीं उठाए तो भंडारा जिले में कोरोना को नियंत्रित करना बेहद मुश्किल हो जाएगा.  भंडारा जिले में 5,637 की जांच की गयी है. इसमें से  793 नए कोरोना संक्रमित रोगी पाए गए हैं.  इनमें भंडारा तहसील के 382, ​​मोहाड़ी तहसील 89, तुमसर तहसील 130, पवनी तहसील के  92, लाखनी तहसील 37, साकोली तहसील 34 और लाखांदुर तहसील के 29 का समावेश हैं.

3 रोगियों की हुई मौत

जिला स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि भंडारा जिले में अब तक 1 लाख 89 हजार 134 लोगों  का परीक्षण किया गया जिसमें से कुल कोरोना पाजिटिव मरीजों की संख्या 19,171 है. इसमें से 15,069 लोग स्वस्थ हुए हैं.  वर्तमान में जिले में रिकवरी रेट 78.60 है. किसी समय यह 98 प्रतिशत हुआ करता था. शुक्रवार को भंडारा जिले में  3 कोरोना रोगियों की मृत्यु हुई. जिले में कोरोना पाजिटिव से अब तक कुल  347 मौतें हुई है.  जिले की मृत्यु दर वर्तमान में 01.81 प्रतिशत है. 

 कलेक्टर  कदम ने सरकारी और निजी अस्पतालों में ओपीडी में आने वाले किसी भी बुखार के रोगियों के लिए कोविड परीक्षण का निर्देश दिया है.  उन्होंने  लाखनी तहसील के किन्ही गांव में प्रतिबंधित क्षेत्र का दौरा किया और किए गए उपाय योजनाओं का जायजा लिया.  उनके साथ अनुविभागीय अधिकारी मनीषा दांडगे और तहसीलदार मलिक विरानी भी थे.