File Photo
File Photo

भंडारा. राष्ट्रीय तथा राज्यमार्ग को जोड़ने वाला भिलेवाडा-खड़की 18 किलोमीटर के इस मार्ग की दुर्दशा पर ध्यान देने वाला कोई नहीं है. यहां के लोगों ने संबंधित विभाग के अधिकारियों की लापरवाही को इस मार्ग की दुर्दशा का सबसे बड़ा कारण बताया दा रहा है.

भंडारा से करडी तक का जिला मार्ग नागपुर से रायपुर राष्ट्रीय महामार्ग क्रमांक 6 तथा रामटेक से लाखनी राज्यमार्ग खड़की से भिलेवाडा तक जुड़ा हुआ है. वैनगंगा नदी के पूर्व दिशा में होने के कारण इस मार्ग से रेत लाने, ले जाने का काम बड़ी आसानी से होता है. इस मार्ग पर खमारी, वडेगांव, मांडवी, कान्हलकर, मुंढ़री ये रेत घाट हैं. इस रास्ते का विस्तारीकरण न होने की वजह से उस पर यातायात करना बहुत कठिन होता है.

खमारी- भिलेवाडा मार्ग मिट्टी का है या डांबर का, इसका पता ही नहीं लगता, इस मार्ग पर साइकिल चलाना भी बहुत मुश्किल हो जाता है. इस रास्ते की मरम्मत का ठेका एक बहुत बड़े ठेकेदार को दिया गया है, लेकिन अभी तक इस मार्ग की मरम्मत का काम शुरु नहीं हो पाया है. इस वजह लोगों में भंयकर आक्रोश व्याप्त है. लोगों का कहना है कि अगर समय रहते इस मार्ग की मरम्मत का काम शुरु नहीं किया गया तो तीव्र आंदोलन छेड़ा जाएगा.