Cold stress is increasing gradually

भंडारा. जिले में पिछले 3 दिनों से ठंड तेजी से बढ़ी है. तापमान 12 डिग्री तक लुढ़क गया है. नतीजतन हर गांव में जलते अलाव की तस्वीर देखी जा रही है. ग्रामीण अंचलों में सबसे ज्यादा ठंड का असर देखा जा रहा है. लोग गर्म कपड़ों के बगैर घर से बाहर नहीं निकल रहे हैं.

अधिकांश क्षेत्रों में मॉर्निंग वॉक बंद

दिवाली से पहले हुई बेमौसम बारिश के बाद ठंड तेज हो गई थी, फिर ठंड गायब हो गई. अभी 2-3 दिनों से कड़ाके की ठंड पड़ रही है. सुबह कोहरा भी दिख रहा है. इस ठंड के कारण मॉर्निंग वॉक करने वालों की संख्या में कमी आई है. 

गर्म कपड़ों की दूकानों में भीड़

सुबह 5 बजे से वातावरण में ठंडक होने लगती है. ग्रामीण इलाकों में गर्मी के लिए अलाव जलाए जा रहे हैं. शहरी क्षेत्रों में नागरिकों ने गर्म कपड़े निकाले हैं. शहर के विभिन्न दूकानों में स्वेटर व गर्म कपड़े खरीदने के लिए नागरिक भीड़ कर रहे हैं. बढ़ती ठंड का फायदा रबी फसल को मिलता है. मौसम विभाग ने अगले 2 दिनों में हल्की से मध्यम बारिश की संभावना जताई है.