File Photo
File Photo

भंडारा. आपदा प्रबंधन विभाग की ओर से दिए गए निर्देशों के आधार पर जिला प्रशासन ने भंडारा शहर की दूकानों की समय-सारिणी तय की है. जिला प्रशासन की ओर से तय किए गए समय पर ही दूकानें खुलेंगी और बंद की जाएगी. जिला प्रशासन ने सभी दूकानदारों से अपील की है कि वह तय की गई समय-सारिणी के आधार पर अपनी दूकानें खोलें व बंद करें.

दूकानदारों को यह भी ताकित गई है कि वे नियमों का पालन करें, जो दूकानदार नियमों का पालन नहीं करेंगे, उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. शहर की कई दूकानें न तो तय समय पर खुल रही हैं और न ही बंद हो रही हैं. जब नगर परिषद को इस बारे में जानकारी मिली तो नगर परिषद व पुलिस विभाग के संयुक्त रूप से नियमों का पालन न करने वाले दूकानदारों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए संयुक्त दल का गठन किया.

शहर में सुबह 9 से शाम 5 बजे तक का समय
भंडारा शहर में सुबह 9 से शाम 5 बजे तक का समय तय किया है, किंतु शहर के कुछ क्षेत्रों में शाम 5 बजे के बाद भी दूकानें खुली रहती है. शहर के अल्फा फैशन हाउस का शटर बाहर से बंद करके अंदर ग्राहकों को सामान बेचा जा रहा था. नगर परिषद प्रशासन व पुलिस के संयुक्त दल ने दूकान के अंदर जाकर वहां जो लोग उपस्थित थे, उनकों बाहर निकाला.

अल्फा फैशन सेंटर के संचालक ने बताया कि अभी मेरा दूकान शुरू होने वाली हैं. दूकान में काम करने वाले दूकान के लिए जरूरी वस्तुओं को एकत्र कर रहे हैं. हालांकि उक्त संयुक्त दल ने अल्फा फैशन सेंटर पर छापा नहीं मारा, किंतु उसके बाद दोनों विभागों के संयुक्त दल ने नियम सख्त करते हुए कहा कि जो दूकानदार नियमों का पालन नहीं करेगा, उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. पिछले कई दिनों से कोरोना मरीजों की संख्या में वृद्धि हो रही है और जिले में अब तक कोरोना प्रभावितों की संख्या 3,564 दर्ज की गई है.

कोरोना मरीजों की संख्या में वृद्धि न हो, इसके लिए जिला प्रशासन अपनी तरफ से हरसंभव प्रयास कर रहा है. नप के मुख्याधिकारी विनोद जाधव के नेतृत्व में अलग-अलग दलों का गठन कर नियमों का पालन नहीं करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है. दूकानदारों को खुलेतौर पर बताया गया है कि वह नियमों का पालन करें, अन्यथा कार्रवाई की जाएगी.