Citizens upset with Odd Even, market should open regularly
File Photo

भंडारा. भाई-बहन के स्नेह के पर्व रक्षाबंधन पर भी कोरोना महामारी का असर पड़ रहा है. अगस्त माह की 3 तारीख को रक्षाबंधन का पर्व मनाया जाएगा. रक्षाबंधन पर्व के लिए अब कुछ ही दिन शेष बचें हैं, लेकिन जिस तरह से राखी की दूकानें सजनी चाहिए थीं, वह अभी तक सज नहीं सकी हैं. बाजार में जाकर राखी खरीदना कहीं कोरोना के आगमन का कारण न बन जाए, इसलिए बहने दूकानों में न जाकर घर में बनी राखी खरीदने में ज्यादा रूचि दिखा रही हैं.

लॉकडाउन के कारण अपना घर छोड़कर दूसरे गांव जाने वाले लोंगों को भी होम क्वारंटीन किया जा रहा है. ऐसे में इस वर्ष रक्षाबंधन में तो बहन भाई के घर जाने में दिलचस्पी दिखाएंगी या भाई की कलाई पर बांधी जाने वाली राशि कुरियर या डाक से भेजकर अपने भाई से कहेगी कि भैया इस बार घर आना संभव नहीं है, आप राखी बांघ लीजिएगा. ऐसी स्थिति कोरोना के कारण बनी हुई है.