महिला बचत गट की ओर से कोरोना जनजागृति

  • स्कूल परिसर वृक्षारोपण- ग्राम विकास संस्था का उपक्रम, महिलाओं के सहयोग से की गई स्वच्छता

भंडारा (का). आत्मनिर्भर भारत-अभियान से प्रेरित महाएनजीओ फेडरेशन, ग्राम विकास संस्था भंडारा तथा महिला स्वयं सहायता समूह की ओर से दूधारा में सेवा सप्ताह के अंतर्गत ग्राम स्वच्छता अभियान, वृक्षारोपण, केंद्रीय परसबाग के साथ-साथ कोरोना के बारे में जनजागृति की गई. भंडारा जिले में कोरोना के बढ़ते फैलाव को रोकने के लिए जिला प्रशासन की ओर से प्रभावी कदम तो उठाए जा रहे हैं, लेकिन इन कदमों के अलावा सामाजिक संस्थाओं, महिलाएं भी अपनी तरफ से योगदान दे रही हैं.

जिले के आदिवासी क्षेत्रों में कोरोना के बारे में जनजागृति करने के लिए महाएनजीओ फेडरेशन तथा ग्राम विकास संस्थाएं आगे आयीं और भंडारा तहसील के आदिवासी क्षेत्र के कोका जंगल परिसर में स्थित दुधारा में आपले कुटुंब आपली जिम्मेदारी अभियान के तहत घर-घर जाकर गांव वालों को कोरोना से बचाव के बारे में क्या-क्या करना जरूरी है, इसके बारे में जानकारी दी गई. इस दौरान मॉस्क, सेनेटाइजर का उपयोग करते हुए सभी से समाजिक दूरी का पालने की नसीहत भी दी गई.  स्वयं सहयता महिला बचत गट ने बार-बार हाथ धोने की जरूरत के बारे में जानकारी दी.

जिला परिषद स्कूल में वृक्षारोपण करके स्कूल परिसर की गंदगी को साफ दिया गया. इस दौरान यह कहा गया कि कोरोना रोग पर मात देनी हो तो रोग प्रतिकारक शक्ति बढ़ाना जरूरी है. इस मौके पर ग्राम विकास संस्था के अध्यक्ष दिलीप बिसेन ने भी अपने विचार रखे. कार्यक्रम में पूर्व जिला परिषद सदस्य उत्तम राव कडपाते, किशोर ठक्कर, रजनीश बनसोड़, संजय अत्राम, सरपंच हेमलता टेकाम, काशीनाथ मरसकोल्हे, हर्षदीप डोंगरे, सुनील कोडापे, विनोद वाढ़वे आदि उपस्थित थे.