LPG cylinder

  • नागरिक, किसान व ट्रांसपोर्टर परेशान

तुमसर. बीते 6 महीने में पैट्रोल-डीजल के दामों में लगातार हुई वृद्धि ने किसान व ट्रांसपोर्टर को परेशानी में डाल दिया था. अब रसोई गैस के कीमतों में बढ़ोत्तरी होने से सर्वसामान्य नागरिकों को आर्थिक परेशानी में डाल दिया है. डीजल की महंगाई का असर सीधे-सीधे किसान व सर्वसामान्य नागरिकों पर  पड़ा था.

कोरोना संक्रमण के कारण पहले से ही आर्थिक संकट से जूझ रही जनता के लिए इस वृद्धि ने आग में घी डालने का काम किया है. डीजल के दामों में बेहताशा वृद्धि से किसानों में रोष व्याप्त है. क्षेत्र में पेट्रोल व डीजल के दामों में बढ़ोत्तरी का असर सर्वसामान्य लोगों की जेब पर पड़ रहा है. डीजल महंगा होने से माल भाड़ा बढ़ा है. जिससे महंगाई भारी मात्रा में बढ़ी है.

गृहिणियों का बिगड़ा बजट

लॉकडाउन के कारण पहले से लोगों की कमर टूटी हुई है. अब इस अतिरिक्त बोझ से नागरिक काफी परेशान दिखाई देते हैं. लॉकडाउन के कारण गत 6 महीने  से काम धंधे पूरी तरह से बंद है. जिससे लोगों ने जो जमा पूंजी थी उससे अब तक घर का खर्च चलाया था. गत 2 महीने से अनलॉक तो हुआ है, किंतु अभी भी कारोबार पटरी पर नहीं आया है. डीजल के बढ़ने से रोज़मर्रा की ज़रूरतों की चीज़ें भी महंगी हो गई हैं. दूसरी ओर रसोई गैस मंहगी होने से महिलाओं में भी रोष व्याप्त है.